भारत के खिलाफ F-16 का इस्तेमाल करना पाकिस्तान को पड़ेगा महंगा, US ने शुरू की जांच

दिल्ली:  पुलवामा हमले को लेकर भारत-पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ता जा रहा है।  इस हमले का बदला लेने के लिए भारतीय वायुसेना ने पाक के कब्जे वाले कश्मीर (PoK) में जैश-ए- मोहम्मद के ठिकानों पर एयर स्टाइक की।  इसके बाद पाकिस्तान ने 3 F-16 फाइटर जेट ने भारत की हवाई सीमा में घुसने की हिमाकत की, जिसे  भारतीय वायुसेना ने नाकाम कर दिया था। लेकिन अब अपने इस कदम को लेकर पाकिस्तान की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं।

Related image

भारतीय सीमा में हमले करने के लिए F-16 विमान का इस्तेमाल पाकिस्तान को भारी पड़ सकता है। पाकिस्तान को F-16 विमान देने वाले अमेरिका ने अब इसका भारत के खिलाफ इस्तेमाल करने पर जांच शुरू कर दी है।  मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, F-16 की डील करते वक्त अमेरिका ने पाकिस्तान के सामने शर्त रखी थी कि इन विमानों का इस्तेमाल अपने देश में ही किया जाएगा। पाकिस्तान ने भारतीय सीमा पर इन विमानों का इस्तेमाल किया।

Image result for अमेरिका

भारत ने पेश किए ये सबूत
भारतीय सेना के अधिकारियों ने बताया कि पाकिस्तान ने राजौरी में कई एआईएम 120सी मिसाइल दागी थी। इसे एमरैम मिसाइल भी कहा जाता है। वायुसेना ने इस मिसाइल के टुकड़े अमेरिकी अधिकारियों को सौंपे हैं। भारत का कहना है कि ये मिसाइल पाकिस्तान के सिर्फ एफ-16 विमानों में ही इस्तेमाल होती है. इसलिए उसका दावा झूठा है।

Image result for F-16 विमान


2016 में अमेरिका ने पाकिस्तान को F-16 बेचने पर लगाई थी रोक

इसके पहले 2016 में ओबामा प्रशासन द्वारा पाकिस्तान को आठ एफ-16 लड़ाकू विमान बेचे जाने पर रोक लगा दी गई थी। अमेरिकी सांसदों को डर था कि पाकिस्तान इन विमानों का इस्तेमाल भारत के खिलाफ कर सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *