जेट एयरवेज के 5 विमानों को खरीदेगी एयर इंडिया

नई दिल्ली: भारत सरकार की अपनी राष्ट्रीय विमानन कंपनी एयर इंडिया ने निजी क्षेत्र की एयरलाइन जेट एयरवेज के पांच खड़े किए गये बोइंग 777एस विमानों को पट्टे पर लेने की पेशकश की है। इस बावत एयर इंडिया ने भारतीय स्टेट बैंक के चेयरमैन रजनीश कुमार को एक पत्र लिखा है। एयर इंडिया इन विमानों का परिचालन लंदन, दुबई और ङ्क्षसगापुर मार्ग पर करना चाहती है। एयर इंडिया अपने पुराने स्थापित मार्गों पर इन खड़े किए जा चुके पांच बी777एस विमानों के परिचालन की संभावना तलाश रही है।  बता दें कि जेट एयरवेज का परिचालन बुधवार रात से अस्थायी रूप से बंद कर दिया गया है। एयरलाइन के पास 10 बड़े आकार के बोइंग 777-300 ईआर विमान हैं। इसके अलावा उसके पास कुछ एयरबस ए-330एस विमान हैं। इन विमानों का इस्तेमाल एयरलाइन मध्यम दूरी और लंबी दूरी की नयी दिल्ली और मुंबई से लंदन, एम्सटर्डम और पेरिस की उड़ानों के लिए करती है।    एयर इंडिया के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक अश्विनी लोहानी ने यह कवायद शुरू की है।    लोहानी ने पत्र में कहा है कि जेट का परिचालन बंद होने से यात्रियों को काफी असुविधा का सामना करना पड़ रहा है।   बता दें कि जेट एयरवेज का नियंत्रण इस समय एसबीआई की अगुवाई वाले बैंकों के गठजोड़ के पास है। बैंकों के गठजोड़ ने जेट एयरवेज की 32.1 से 75 प्रतिशत हिस्सेदारी किसी पात्र निवेशक को बेचने की मंशा जताई है। चार पक्षों एतिहाद एयरवेज, सॉवरेन संपदा कोष एनआईआईएफ, निजी इक्विटी कंपनियों टीपीजी कैपिटल और इंडिगो पार्टनर्स ने जेट में हिस्सेदारी लेने में रुचि दिखाई है। सूत्रों की माने तो अगर एसबीआई अनुमति दे देती है तो एयर इंडिया का बेडा भी बड़ा हो जाएगा, साथ ही जो रूट उसके बंद पड़े हैं, उसे भी संचालित किया जा सकेगा। इसके अलावा बड़ी बात यह है कि जो लोग घाटे में चल रही एयर इंडिया को खत्म करने की योजना बना रहे हैं, उसपर से भी पर्दा हट जाएगा।  जेट एवरेज की एयर होस्टेज भी लेगा एयर इंडिया इसके अलावा एयर इंडिया जेट एवरेज के 150 से अधिक एयर होस्टेस को भी लेने की तैयारी कर रहा है। एयर इंडिया इसकी प्रक्रिया भी शुरू कर दी है। इसमें से 400 एयर होस्टेस ले सकता है। एयर इंडिया के प्रवक्ता धनंजय कुमार ने बताया कि एयर इंडिया को इस समय 1200 एयर होस्टेस की आवश्यकता है। इसी सिलसिले में भर्ती प्रक्रिया चल रहा है। चयन के बाद इन एयरहोस्टेस को इंटरनेशनल फ्लाइटों में तैनात किया जाएगा। इन एयरहोस्टेस की मेडिकल की प्रक्रिया चल रही है।
टॉप क्लास के पायलट भी एयरइंडिया के संपर्क में   सूत्रों के मुताबिकजेट एयरवेज के पायलट और इंजीनियर भी एयर इंडिया प्रबंधक के संपर्क में है। इनमें ऐसे पायलट भी है, जिनके पास 700 से 2000 घंटा विमान उड़ाने का अनुभव है। वहीं इंजीनियरों के पास 20 साल तक का विमान ठीक करने का अनुभव है। सूत्रों की माने तो एयर इंडिया अच्छे और कुशल पायलटों को अपने यहां लेने की तैयारी भी कर रही है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *