भाजपा एवं एनडीए संसदीय दल के नेता चुने गए नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली: संसद के केंद्रीय कक्ष में तालियों की गडग़ड़ाहट के बीच शनिवार की शाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भाजपा एवं राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) का नेता सर्वसम्मति से चुन लिया गया। नवनिर्वाचित सांसदों और वरिष्ठ नेताओं की बैठक में मोदी का चुनाव किया गया। इसके बाद देर शाम पीएम मोदी की अगुवाई में एक दल राष्ट्रपति भवन पहुंचा। यहां राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिलकर देश में अगली सरकार बनाने का दावा पेश किया। इसके बाद उन्हें अगले प्रधानमंत्री के रूप में शपथ दिलाई जाएगी। शपथ-ग्रहण समारोह अगले सप्ताह आयोजित होने की संभावना है।
सबसे पहले संसद के सेन्ट्रल हाल में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने भाजपा संसदीय दल के नेता के रूप में नरेंद्र मोदी के नाम पर प्रस्ताव पेश किया। पूर्व अध्यक्ष राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी ने प्रस्ताव का अनुमोदन किया। उसके बाद बीजेपी के सभी नवनिर्वाचित संसद सदस्यों ने हाथ उठाकर मोदी-मोदी के नारों के साथ प्रस्ताव का समर्थन किया। इसके साथ ही बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने सर्वसम्मति से नरेंद्र मोदी को बीजेपी संसदीय दल का नेता चुने जाने का ऐलान किया। इस मौके पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने ऐलान किया कि मोदी को सर्वसम्मति से 353 सांसदों के संसदीय दल का नेता चुना जाता है। इस दौरान मोदी ने सांसदों और नेताओं का अभिवादन स्वीकार किया। बीजेपी के संसदीय दल का नेता चुने जाने के बाद नरेंद्र मोदी को एनडीए संसदीय दल का नेता चुना गया। सबसे पहले शिरोमणि अकाली दल के सरपस्त प्रकाश सिंह बादल ने बीजेपी संसदीय दल के फैसले का समर्थन करते हुए मोदी को एनडीए संसदीय दल का नेता चुने जाने का प्रस्ताव पेश किया। प्रस्ताव का जेडीयू के नीतीश कुमार, शिवसेना के उद्धव ठाकरे, एलजेपी के रामविलास पासवान, एआईएडीएमके की तरफ से ई. पलनिसामी, नगालैंड के मुख्यमंत्री नेफ्यू रियो और एनपीपी के के. संगमा ने समर्थन किया। अपना दल और झारखंड स्टूडेंट यूनियन समेत एनडीए के बाकी सभी घटक दलों के नेताओं ने पत्र लिखकर प्रस्ताव का समर्थन किया। इसके बाद हॉल में मौजूद सभी लोगों ने खड़े होकर तालियों की गडग़ड़ाहट के बीच पीएम पद के लिए नरेंद्र मोदी के नाम का समर्थन किया।
बीजेपी और एनडीए के संसदीय दल का नेता चुने जाने के बाद सभी वरिष्ठ नेताओं ने पीएम नरेंद्र मोदी को पुष्प गुच्छ देकर बधाई दी। सबसे पहले भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने दिया। इसके बाद भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी और डा. मुरली मनोहर जोशी फिर प्रकाश सिंह बादल ने गुलदस्ता सौंपा। इस मौके पर तालियों की गडग़ड़ाहट और मोदी-मोदी के नारों के बीच सभी ने बधाई दी।   बता दें कि शाम 5 बजे से पहले ही बीजेपी के सभी नवनिर्वाचित सांसद, बड़े नेता और एनडीए के नेता सेन्ट्रल हॉल में मौजूद थे। शाम करीब साढ़े 5 बजे नरेंद्र मोदी सेन्ट्रल हॉल पहुंचे। सीढिय़ों पर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और राजनाथ सिंह ने उनकी अगवानी की और गुलदस्ता देकर स्वागत किया। मोदी के आने के बाद वंदेमातरम की धुन के साथ बीजेपी संसदीय दल की औपचारिक बैठक की शुरुआत हुई। सेन्ट्रल हॉल में बीजेपी के सभी नवनिर्वाचित 303 सांसदों के अलावा यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल, पार्टी के वरिष्ठ नेता समेत एनडीए शासित राज्यों के मुख्यमंत्री, उप मुख्यमंत्री और पूर्व मुख्यमंत्री भी मौजूद थे।

मोदी ने आडवाणी, जोशी का पैर छूकर लिया आशीर्वाद
बीजेपी संसदीय दल और एनडीए का नेता चुने जाने के बाद नरेंद्र मोदी का अमित शाह ने गुलदस्ता देकर और पटका पहनाकर स्वागत किया। उसके बाद बीजेपी के दिग्गज लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और मंच पर विराजमान सभी एनडीए नेताओं ने भी उनको गुलदस्ता भेंट कर स्वागत किया। खास बात यह थी कि नरेंद्र मोदी ने पैर छूकर आडवाणी, जोशी एवं प्रकाश सिंह बादल का आशीर्वाद लिया। मोदी ने जोशी से गर्मजोशी से गले मिले।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *