हंगर इंडेक्सः देश में भूखे बच्चों की बढ़ रही है तादात, मोदी को बताया जिम्मेदार

• हंगर इंडेक्स पर कांग्रेस का सरकार पर वॉर
• कपिल सिब्बल ने की मोदी को दी सीख
• पीएम मोदी पर ट्वीट से कसा तंज

नेशानल डेस्कः
लाख दावों के बीच देश में कर्इ जरूरी मुद़दों पर सरकार की चुप्पी विपक्ष का हथियार बन रही हैं। ताजा मामला ग्लोबल हंगर इंडेक्स के ताजा आंकड़ों का है। जिसके अनुसार भारत के नागरिकों को उनकी भूख के मुताबिक भरपूर खाना नहीं मिल रहा है। इन आंकड़ों ने देश में राजनीति को गरम कर दिया है। जिसकी बानगी कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने केंद्र सरकार पर निशाना साध कर दिया है।

कपिल सिब्बल ने ट़वीट कर, सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सवाल किया है।

इसी के साथ ही कपिल सिब्बल ने GHI के ताजा आंकड़े अपने ट्वीट में जारी किए हैं। जिसमें भारत 2010 में 95वें स्थान पर था और अब लुढ़क कर 2019 में 102वें स्थान पर पहुंच गया है। इसमें दावा किया गया है कि 93 फीसदी बच्चों को पेटभर खाना नहीं मिल रहा है। गौरतलब है कि मंगलवार को ही ये आंकड़े सामने आए हैं जो सरकार के दावे को खारिज करते हैं।

ग्लोबल हंगर इंडेक्स (GHI) द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक भारत 117 देशों की रैंकिंग में 102वें नंबर पर है. 2014 से भारत की रैंकिंग में लगातार गिरावट हो रही है। 2014 में भारत 77 देशों की रैंकिंग में 55 नंबर पर था।

स्वच्छ भारत पर भी खड़े हुए हैं सवाल!
इसी रिपोर्ट में केंद्र सरकार के स्वच्छ भारत अभियान पर भी सवाल खड़े किए गए हैं। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि ग्रामीण भारत में अभी भी बड़े तबके के लोग खुले में शौच करने जाते हैं, जो कि सरकारी दावों से बिल्कुल अलग है। गौरतलब है कि इसी दो अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को खुले में शौच से मुक्त घोषित किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *