यूपी के श्रमिक जल्द आ सकेंगे अपने गांव: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

टीम 11 की बैठक में सीएम योगी ने दिए निर्देश

दूसरे प्रदेशों में क्वारंटीन श्रमिकों के लिए बस भेजने की तैयारी

 

हरियाणा से शुरू होगी प्रक्रिया की शुरूआत

 

लखनऊ, 24 अप्रैल। यूपी के जो भी क्षमिक दूसरे राज्यों में हैं, वो बहुत जल्द अपनों के बीच होंगे। सीएम योगी ने इसके लिए पूरी योजना तैयार कर ली है। उत्तर प्रदेश में कोरोना के खिलाफ मजबूती से जंग लड़ी जा रही हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अगुवाई में प्रदेश का हर महकमा कमर कसे हुए है। सीएम योगी हर दिन कोरोना से बचाव व रोकथाम के साथ ही प्रदेश के हालात की समीक्षा कर रहे हैं। शुक्रवार को भी अपने आवास पर टीम 11 के साथ बैठक कई महत्वर्पूण निर्देश जारी किए।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बैठक में अधिकारियों को निर्देश दिया कि दूसरे राज्यों में उत्तर प्रदेश के जिन श्रमिकों ने क्वारंटीन की अवधि पूरी कर ली है उनको वापस लाने की तैयार करें। वापस लाने से पहले बॉर्डर पर उनकी विधिवत स्क्रीनिंग की जाए। उसके बाद जो श्रमिक जिस जनपद का है उसे उस जनपद में भी 14 दिन के लिए क्वारंटीन कराएं। जहां भी वापस लाए गए श्रमिकों को क्वारंटीन किया जाए, वहां पूल टेस्टिंग की व्यवस्था हो। सीएम ने निर्देश दिया है कि हरियाणा से शुरू करके इस प्रक्रिया को चरणबद्ध तरीके से किया जाए। हरियाणा में यूपी के 11 हजार श्रमिक क्वारनटीन सेंटर में हैं। इनकी वापसी के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की भी हिदायद दी गई है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आदित्यनाथ अधिकारियों को निर्देश दिया कि सभी नोडल अधिकारी संबंधित प्रदेशों की सरकारों से बात कर वहां रहे यूपी के श्रमिकों की सूची मंगवा लें। जिससे उनकी संख्या के अनुसार बसो का बंदोबस्त किया जा सके। इस दौरान नेपाल समेत देश के जिन प्रदेशों से उत्तर प्रदेश की सीमाएं लगती हैं। वहां पर पुलिस को विशेष रूप से सतर्कता बरतने का निर्देश सीएम योगी ने दिया है। सीएम योगी ने यह भी आदेश कि कोरंटाइन पूरा कर चुके हर श्रमिक को घर जाने से पहले एक हजार रुपये और तय मात्रा में खाद्यान्न भी अवश्य उपलब्ध करा दिया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.