CM YOGI की विरोधियों को दो टूक, जनता देगी करारा जवाब

CM Yogi bluntly opposes, public will give a befitting reply
  • सीएम योगी आदित्यनाथ का विरोधियों पर बड़ा हमला
  • योजनाओं का पैसा हड़पने वाले अब हो रहे हैं बेचैन
  • यूपी सरकार बिना भेदभाव के सबके साथ खड़ी है

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वैश्विक माहामारी के इस आपात काल में निहित स्वार्थ के लिए राजनीति करने वालों की घोर निंदा की है। सीएम योगी ने निंदा के साथ ही राजनीतिक विरोधियों पर बड़ा हमला भी बोला। सीएम योगी ने आरोप लगाया है कि राजनीतिक विरोधी देश की इस लड़ाई को कमजोर करने का प्रयास कर रहे हैं। जबकि प्रदेश सरकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में कोरोना से जारी इस जंग को हमेशा मजबूती देने का काम किया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विरोधियों पर हमला करते हुए कहा कि जो लोग अपने शाासन काल में कामगार, गरीब, मजबूर, निराश्रित और महिलाओं के कल्याणकारी योजनाओं की धनराशि हड़प कर जाते थे। आज वही इन गरीबों के खाते में धनराशि पहुंचने पर बौखला रहे हैं। सीएम योगी ने कहा कि पहली बार देश के अंदर आपदा के समय में गरीबों, मजदूरों, महिलाओं, निराश्रितों के लिए 1 लाख 70 हजार करोड़ के रूप में एक बड़ी राहत पीएम गरीब कल्याण पैकेज के रूप में घोषित हुई।

Yoginath-Aditya

प्रदेश सरकार द्वारा किए गए कामों का ब्योरा देते हुए सीएम योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में 2 करोड़ 34 लाख किसानों के खाते में 2—2 हजार रुपये की पहली किस्त अप्रैल में और दूसरी किस्त इसी माह भेजी जा रही है। इसके अलावा 3 करोड़ 26 लाख महिलाओं के जनखत खाते में 1630 करोड़ रुपये अप्रैल में और 1630 करोड़ रुपये की धनराशि मई महिने में आ गई है। 1 करोड़ 47 लाख परिवारों को उत्तर प्रदेश में निशुल्क रसोई सिलेंडर उपलब्ध कराया गया है। 18 करोड़ गरीबों को दो बार निशुल्क खाद्यान्न वितरित किया गया है, तीसरी बार भी यह वितरण शुरू किया जा रहा है। प्रदेश में निराश्रित, गरीब, रोज कमाने वाले, कामगार जैसे 30 लाख से अधिक गरीबों को यूपी सरकार द्वारा एक हजार रुपये का भरण पोषण भत्ता और निशुल्क खाद्यान्न भी दिया गया है। मनरेगा मजदूरों को बढ़े हुए पारिश्रामिक से भुगतान किया गया है। 88 लाख से अधिक पेंशन धारकों को दो महिनों की धनराशि एडवांस उपलब्घ करा दी गई है।

हर जरूरतमंद की सहायता
सीएम योगी आदित्यनाथ ने गैर राज्य से यूपी में वापस आने वाले कामगारों व श्रमिकों को दी जाने वाली सहायता के बारें में बताया कि यूपी में आने वाले गैर प्रवासी मजदूरों को क्चारंटीन, कम्यूनिटी और शेल्टर होम तक पहुंंचाने का किया जा रहा है। सभी को खाद्यान्न देकर घर पहुंचाने का काम प्रदेश सरकार कर रही है। 10 हजार से अधिक यूपी परिवहन की बसों को इस सेवा में लगाया गया है। प्रदेश सरकार ने यूपी में कोरोना के खिलाफ लड़ाई को मजबूत करने के लिए 50 हजार से ​अधिक लेवल—1, लेवल—2 और लेवल—3 के अस्पतालों को तैयार करने का काम कर दिया है। यहां हर जरूरतमंदों का निशुल्क कोरोना का उपचार किया जा रहा है। आपातकालीन उपचार के लिए भी कोविड व नॉन कोविड अस्पतालों की श्रृंखला उपलब्ध कर दी गई है। ये अस्पताल 1 लाख से अधिक बेडों से लैंस हैं।

cm-yogi-transfers-611-cr-to-bank-account-of-27-5-lakh-up-workers

PM के नेतृत्व को यूपी ने दी मजबूती
YOGI ADITYA NATH ने कहा कि देश की लड़ाई को मजबूत करने के लिए हर नागरिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में लड़ रहा है। उत्तर प्रदेश सरकार ने भी इन प्रयासों के आधार पर इस लड़ाई को मजबूती देेने का काम किया है। प्रदेश सरकार ने 6.50 लाख से अधिक कामगारों व श्रमिकों को वापस लाने में सफलता हासिल की है। 28 मार्च को 6 लाख से अधिक कामगारों को वापस लाकर उनके उपचार की व्यवस्था की। साथ ही उनके लिए खाद्यान्न की व्यवस्था के साथ ही एक हजार रुपये भरण पोषण भत्ता देकर होम क्वारंटीन पहुंचाने तक का कार्य उत्तर प्रदेश सरकार ने किया। दूसरे चरण में बीते तीन दिनों के भीतर ही 50 हजार से अधिक कामगार व श्रमिक यूपी में वापस लौटे हैं। पूर्व की भांति इन सबको भी क्वारंटीन सेंटर ले जाकर आवश्यक स्वास्थ्य परिक्षण के बाद शासकीय वाहन से घर पहुंचाने का कार्य किया गया है।

सीएम योगी ने कहा कि यह र्दुभाग्य है कि एक तरफ निराश्रित, गरीब, युूवाओं और भेदभाव के बिना हर तबगे के साथ उत्तर प्रदेश सरकार खड़ी है। वहीं दूसरी तरफ कुछ राजनीतिक दल सेवा के कार्य से अलग हटकर हर मुदृदे पर राजनीति करने का बेजा प्रयास कर रहे हैं। सीएम योगी ने इसे राजनीतिक गरिमा के खिलाफ अभद्र आचरण बताया करार दिया। सीएम योगी ने विरोधियों को आगाह करते हुए कहा कि जनता सब जानती है और इस नकारात्मक रवैये का जवाब जनता जर्नादन जरूर देगी।

Yogi-Adityanath-corona

बिना भेदभाव के सहयोग
CM YOGI ने अपील कि है कि देश की लड़ाई में जिस धैर्य व संवेदनशीलता के साथ अब तक इस लड़ाई को प्रदेशवासियों ने सरकार के साथ मिलकर आगे बढ़ाया है। उसी धैर्य व संवेदनशीलता से प्रदेश सरकार का सहयोग करते रहें। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के 23 करोड़ लोगों को आश्वासन दिया है कि सरकार सबकी चिंता और सुरक्षा करने का हर संभव प्रयास कर रही है और सबके साथ खड़ी है।