Wednesday, August 17, 2022
Home देश GST Collectio...

GST Collection: जुलाई में GST कलेक्शन 1.49 लाख करोड़ रुपए पहुंचा, बीते साल की तुलना में 28 प्रतिशत बढ़ा

  • केंद्र सरकार का जीएसटी कलेक्शन जुलाई में बढ़ा

  • 1.49 लाख करोड़ रुपए पहुंचा GST कलेक्शन 

  • बीते साल की तुलना में 28 प्रतिशत की बढ़ोतरी

नेशनल डेस्क: केंद्र सरकार के लिए राहतभरी खबर सामने आई है। दरअसल, केंद्र सरकार का जीएसटी कलेक्शन जुलाई में बढ़ा है। जुलाई में जीएसटी कलेक्शन बढ़कर 1.49 लाख करोड़ रुपये हो गया है। बीते साल की तुलना में ये 28 प्रतिशत की बढ़ोतरी है। जुलाई 2021 में जीएसटी कलेक्शन 1,16,393 करोड़ रुपये रहा था। वहीं इस साल के पिछले महीने यानी जून 2022 में जीएसटी कलेक्शन 1,44,616 करोड़ रुपये था।

New GST rates: Here's what will get expensive after Centre's 5% hike from today | Business News – India TV

आपको बता दें कि जीएसटी लागू होने के बाद यह मार्च 2022 से लगातार पांचवीं बार है जब जीएसटी कलेक्शन 1.40 लाख करोड़ रुपये के पार रहा है। जुलाई का कलेक्शन दूसरा सबसे बड़ी जीएसटी कलेक्शन है। वित्त मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़े के मुताबिक, जुलाई में सीजीएसटी 25,751 करोड़ रुपये, एसजीएसटी 32,807 करोड़ रुपये, इंटीग्रेटेड जीएसटी कलेक्शन 79,518 करोड़ रूपये और सेस 10920 करोड़ रूपये रहा।

GST Rate Hike From Today, These Essential Items Will Get Costlier

अप्रैल 2022 में जीएसटी कलेक्शन में रिकॉर्ड उछाल आया था। जीएसटी कलेक्शन का आंकड़ा 1.5 लाख करोड़ रुपये को पार कर गया था। अप्रैल में ग्रॉस जीएसटी कलेक्शन 1,67,540 करोड़ रूपया दर्ज किया गया था। इसमें CGST 33,159 करोड़ रुपए, SGST 41,793 करोड़ रुपए, IGST 81,939 करोड़ रुपए और सेस 10,649 करोड़ रुपये था।

12 Malayalam film actors under probe for GST evasion

वहीं, जीएसटी से सरकार को होने वाली कमाई और बढ़ सकती है। ऐसा इसलिए क्योंकि जून के आखिरी में जीएसटी काउंसिल की बैठक में कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों को भी जीएसटी के स्लैब में लाया गया, जो अब तक बाहर थे। इसमें दही, लस्सी, छांछ, चावल और आटा जैसी रोजमर्रा की जरूरी वस्तुएं शामिल है।


GST Rate Revision, Tax on Online Gaming; Key Decisions to Expect from GST Meeting

काउंसिल ने टेट्रा पैक वाले दही, लस्सी और बटर पर भी 5 प्रतिशत जीएसटी कर लगाने का निर्णय लिया था। नई दरें 18 जुलाई से लागू है। बता दें कि जीएसटी में 5,12,18 और 28 प्रतिशत के चार स्लैब हैं। हालांकि, गोल्ड और गोल्ड ज्वेलरी पर 3 प्रतिशत टैक्स लगता है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular