Breaking News

हिमाचल प्रदेश के चंबा में भूस्खलन, भरमौर-पठानकोट राष्ट्रीय राजमार्ग बंद, गाड़ियों की लगी लंबी कतार

  • हिमाचल प्रदेश के चंबा में भूस्खलन

  • भरमौर-पठानकोट राष्ट्रीय राजमार्ग बंद

  • गाड़ियों की लगी लंबी कतार

नेशनल डेस्क: रविवार को हिमाचल प्रदेश के चंबा में एक बार फिर भूस्खलन होने से भरमौर-पठानकोट राष्ट्रीय राजमार्ग बंद हो गया। जानकारी के मुताबिक राष्ट्रीय राजमार्ग प्रभावित होने से दोनों तरफ गाड़ियों की लंबी- लंबी कतारें लग गई।

Illegal mining now threatens the bridge on the road of Kangra ban on  movement of vehicles - अवैध खनन से अब कांगड़ा के सड़क मार्ग पर बने पुल को  खतरा, वाहनों की

मार्ग को बहाल करने का कार्य जारी
हालंकि राष्ट्रीय राजमार्ग अथॉरिटी ने अपनी मशीनरी मौके पर भेज दी है, ताकि समय रहते मार्ग को बहाल किया जा सके। जानकारी के अनुसार, कांदू के पास रविवार की सुबह भारी भूस्खलन हुआ है। यहां पेड़ गिरने से भरमौर-पठानकोट हाईवे बंद हो गया है। अस्थायी दुकानों पर चीड़ के पेड़ गिर गए हैं।

छोटे और बड़े वाहनों की लगीं लंबी कतारें
हाईवे बहाल करवाना चुनौती बना है। हाईवे पर चंबा और बनीखेत की तरफ से छोटे और बड़े वाहनों की लंबी कतारें लगीं हैं। विभागीय मशीनरी मौके पर पहुंच गई है। मलबे को हटाने का काम चल रहा है। एनएच सहायक अभियंता कनव बडोत्रा ने बताया कि हाईवे को जल्द बहाल करने का प्रयास किया जा रहा है।

Kinnaur Landslide: पहाड़ों में बढ़ते हादसों पर बोले पर्यावरणविद, चार महीने  सबसे खतरनाक, पुरानी हिदायतें भूल रहे लोग four rainy months dangerous for  mountains by ...

रास्ता खुलने में लगेगी देरी
मार्ग बाधित होने से दोनों तरफ गाड़ियों की लंबी- लंबी कतारें लगी हुई और लोग मार्ग खुलने का इंतजार कर रहे हैं। हालाकि रास्ता खुलने में समय ज्यादा लग सकता है क्योंकि मलबा ज्यादा सड़क पर पड़ा है। डीसी चंबा दुनी चंद राणा ने कहा कि मार्ग को बहाल करने के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग अथॉरिटी को कहा गया है। जल्द चंबा -भरमौर पठानकोट राष्ट्रीय राजमार्ग 154 ए को बहाल करने का प्रयास किया जा रहा है।

हिमाचल में 4 दिन येलो अलर्ट
मौसम विज्ञान केंद्र शिमला द्वारा हिमाचल में चार दिन और बारिश को लेकर येलो अलर्ट जारी किया गया है। फिलहाल लोगों को बारिश से राहत मिलने वाली नहीं है। आगामी 24 घंटों के दौरान भी जिला मंडी, शिमला, कांगड़ा, कुल्लू और चंबा में भारी बारिश की की बात कही गई है। इस दौरान नदी-नालों के उफान पर रहने और लैंडस्लाइड होने की आशंका जताई है।

मौसम अलर्ट: पहाड़ी वादियां हुईं खतरनाक, अगले 3-4 दिन यहां भारी बारिश और  भूस्खलन की चेतावनी जारी | weather alert Heavy rain and landslide warning  issued in Himachal Pradesh for ...

हिमाचल में भारी बारिश का कहर
हिमाचल प्रदेश में पिछले 24 घंटे के दौरान भारी बारिश का कहर दिखा है। मंडी, कांगड़ा और चंबा में भारी बारिश के कारण काफी तबाही मची है। भारी बारिश के कारण हुए हादसों में 22 लोगों की मौत हो गई है जबकि छह लोग लापता बताए जा रहे हैं। सबसे ज्यादा नुकसान मंडी, कांगड़ा और चंबा जिलों में हुआ है। राज्य में कई स्थानों से भूस्खलन की खबरें आई हैं। राज्य में छोटे-बड़े 336 मार्गों पर आवागमन बंद हो गया है। राज्य सरकार की ओर से पर्यटक को हिमाचल की यात्रा न करने की सलाह दी गई है।

About News Desk

Check Also

UP News: औरैया में शिक्षक की पिटाई से दलित छात्र की मौत पर सियासत, अखिलेश, मायावती और प्रियंका ने योगी सरकार पर बोला हमला

औरैया में दलित छात्र की मौत पर सियासत अखिलेश, मायावती और प्रियंका ने बोला हमला …