Wednesday, August 17, 2022
Home उत्तर प्रदेश शिवपाल के बाद...

शिवपाल के बाद बहू अपर्णा यादव ने रामगोपाल पर साधा निशाना, कहा- यूपी में कानून सबके लिए बराबर है

  • सीएम योगी से मुलाकात कर घिरे रामगोपाल यादव

  • शिवपाल के बाद अपर्णा यादव ने साधा निशाना

  • ‘यूपी में कानून सबके लिए समान रूप से काम कर रही है’

लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव प्रो. रामगोपाल यादव की मुलाकात पर सियासी पारा चढ़ता जा रहा है। शिवपाल यादव के बाद अब भारतीय जनता पार्टी की नेता व मुलायम सिंह यादव की बहू अपर्णा यादव ने भी अब अपने ससुर रामगोपाल पर निशाना साधा है। अपर्णा यादव ने कहा कि योगी सरकार में कानून का राज है और न्याय व्यवस्था सबके लिए समान रूप से काम कर रही है। जाति-धर्म के आधार पर किसी का उत्पीड़न नहीं किया जा रहा। प्रदेश में अपराधियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई हो रही है।

यह भी पढ़ें: कॉमनवेल्थ गेम्स का सातवां दिन, भारत को कई खेलों से गोल्ड से उम्मीद, जानें आज के मैचों का शेड्यूल

अपर्णा ने बुधवार को कहा कि प्रदेश में अपराधियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के कारण ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बुलडोजर बाबा के नाम से जाना जाने लगा है। उनके बुलडोजर मॉडल की तारीफ देश-दुनिया में हो रही है। मुख्यमंत्री से कोई भी मुलाकात कर सकता है। वह प्रदेश के मुखिया है। रामगोपाल यादव के पत्र का जिक्र करते हुए कहा कि इसमें केवल दो लोगों का नाम शामिल किया गया। सपा की ओर से जिस प्रकार से सरकार पर अल्पसंख्यकों के खिलाफ कार्रवाई का आरोप लगाया जा रहा था, उनके मौलिक अधिकारों के हनन बात हो रही है। यह सरासर गलत है। उन्होंने कहा कि दुनिया भर में एक अलग माहौल बनाने की कोशिश की जा रही है।

बता दें कि सपा के वरिष्ठ नेता रामगोपाल यादव ने सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाकात कर एटा के अलीगंज से पूर्व विधायक रहे रामेश्वर सिंह यादव और उनके परिवार के खिलाफ लगातार हो रही कार्रवाई का मामला उठाया था। उनके मुलाकात के बाद सबसे पहले प्रसपा मुखिया शिवपाल सिंह यादव ने यह मामला उठाया था। उन्होंने मुख्यमंत्री को रामगोपाल द्वारा दिए गए पत्र को शेयर करते हुए ट्वीट में लिखा था कि ‘न्याय की यह लड़ाई अधूरी क्यों हैं? आजम खां साहब, नाहिद हसन, शहजिल इस्लाम…और अन्य कार्यकर्ताओं के लिए क्यों नहीं?’

यह भी पढ़ें: आज से चार दिवसीय दिल्ली दौरे पर आएंगी ममता बनर्जी, पीएम मोदी और सोनिया गांधी से मुलाकात की संभावना

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular