Breaking News

दस्यु सरगना की हुंकार 700 साथियों के साथ पाकिस्तान को खत्म कर दूंगा

कानपुर : पुलवामा में सीआरपीएफ पर हुए आतंकी हमले के बाद देश की जनता केंद्र सरकार से पाक के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग कर रही है। इस बीच एक दौर में बीहड़ों में कुख्यात रहे पूर्व डाकू मलखान सिंह  ने कहा है कि वह अपने 700 साथियों के साथ पाक से जंग लड़ने को तैयार हैं। पूर्व दस्यु सरगना ने कहा कि मध्य प्रदेश में 700 बागी (डाकू) बचे हैं, जिनके साथ वह सीमा पर मरने के लिए तैयार हैं। मीडिया से बात करते हुए मलखान ने कहा कि यदि सरकार हमें अनुमति दे तो हम बिना शर्त, बिना वेतन के अपने देश के लिए बार्डर पर मरने को तैयार हैं। एक समय बीहड़ में कुख्यात रहे मलखान सिंह ने कहा कि हमसे लिखवा लिया जाए कि हम मारे जाएं तो कोई जुर्म नहीं। बचा हुआ जीवन हम लगाने को तैयार हैं। अगर इसमें पीछे हट जाए तो नाम मलखान सिंह नहीं है।

–  मलखान ने कहा कि यदि सरकार हमें अनुमति दे तो हम बिना शर्त, बिना वेतन के अपने देश के लिए बार्डर पर मरने को तैयार हैं

– पूर्व दस्यु सरगना ने कहा कि हम कोई अनाड़ी नहीं हैं। 15 साल कथा नहीं बाची है, मां भवानी की कृपा रहेगी तो मलखान सिंह का बाल भी बाका नहीं होगा

– मलखान सिंह ने कहा कि चुनाव होंगे और होते रहेंगे लेकिन पुलवामा हमले का बदला जरूर लेना चाहिए

’15 साल कथा नहीं बांची, बाल बांका नहीं होगा’
पूर्व दस्यु सरगना ने कहा कि हम कोई अनाड़ी नहीं हैं। 15 साल कथा नहीं बांची है, मां भवानी की कृपा रहेगी तो मलखान सिंह का बाल भी बाका नहीं होगा। हम चाहते हैं कि हमें बॉर्डर पर भेजा जाए। उन्होंने कहा कि अगर मुझे टिकट मिलती है तो मई में लोकसभा चुनाव में उतरूंगा।

शहीदों को श्रद्धांजलि, कहा- पुलवामा का बदला जरूरी
पुलवामा आतंकी हमले में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि के एक कार्यक्रम में कानपुर आए मलखान सिंह ने कहा कि चुनाव होंगे और होते रहेंगे लेकिन पुलवामा हमले का बदला जरूर लेना चाहिए। अगर कश्मीर पर फैसला नहीं लिया गया तो कोई भी राजनीति पर विश्वास नहीं करेगा।

 

About admin

Check Also

BBC Documentary Controversy: बीबीसी डॉक्यूमेंट्री पर बैन के खिलाफ 6 फरवरी को सुनवाई करेगा SC

बीबीसी डॉक्यूमेंट्री पर बैन के खिलाफ 6 फरवरी को सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट    गुजरात …