Breaking News

कांग्रेस का ‘हाथ से हाथ जोड़ो अभियान’ लॉन्च, जयराम रमेश बोले- ये 100% राजनीतिक, बताएंगे सरकार की विफलता

  • कांग्रेस ने  ‘हाथ से हाथ जोड़ो’ अभियान के लोगो का अनावरण किया

  • 26 जनवरी से शुरू होगा हाथ से हाथ जोड़ो अभियान

  • राहुल गांधी ने लाखों लोगों से बात की

(नेशनल डेस्क) कांग्रेस ने शनिवार को अपने ‘हाथ से हाथ जोड़ो’ अभियान के लोगो का अनावरण किया, जो 26 जनवरी को शुरू होगा, और सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ डोर-टू-डोर वितरण के लिए आठ पन्नों का आरोप पत्र जारी किया। अभियान। लोगो का परिचय देते हुए, कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा एक वैचारिक आंदोलन है, हाथ से हाथ जोड़ो अभियान मोदी सरकार की विफलताओं को उजागर करने और यात्रा का संदेश लेने के लिए एक डोर-टू-डोर चुनावी अभियान है।

कांग्रेस सांसद जयराम रमेश ने कहा, “हाथ से हाथ जोड़ो अभियान भारत जोड़ो अभियान का दूसरा चरण है. भारत जोड़ो अभियान में विचारधारा के आधार पर राहुल गांधी ने मुद्दे उठाए. उसका चुनाव से लेना-देना नहीं था. हाथ से हाथ जोड़ो अभियान में हमारा निशाना मोदी सरकार की विफलताए हैं, ये 100% राजनीतिक है.”इस अभियान को लेकर कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कहा, “इस ऐतिहासिक कार्यक्रम के 130 दिनों के बाद कांग्रेस को देश की जनता से पर्याप्त इनपुट मिला. पैदल चलते हुए लाखों लोगों ने राहुल गांधी से बात की. हम उनके दर्द को समझ सकते हैं जो वे मोदी सरकार के कुशासन के कारण झेल रहे हैं.”

कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कहा, ”ऐतिहासिक कार्यक्रम ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के 130 दिनों में कांग्रेस को देश की जनता से पर्याप्त इनपुट मिला. पैदल चलते हुए लाखों लोगों ने राहुल गांधी से बात की. हम उनके दर्द को समझ सकते हैं, जो वह मोदी सरकार के कुशासन के कारण झेल रहे हैं.”उन्होंने कहा, ”हाथ से हाथ जोड़ो अभियान 26 जनवरी से शुरू होगा. भारत जोड़ो यात्रा का संदेश आम लोगों तक पहुंचाने के लिए यह अभियान घर-घर चलाया जाएगा. आज हमने मोदी सरकार के खिलाफ चार्जशीट भी जारी की है. जरूरत पड़ने पर हम राज्य सरकारों के खिलाफ भी चार्जशीट जारी करेंगे.”

गौरतलब है कि तमिलनाडु के कन्याकुमारी से सात सितंबर को शुरू हुई भारत जोड़ो यात्रा 30 जनवरी को श्रीनगर में संपन्न होगी, जहां राहुल जम्मू-कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी में राष्ट्रीय ध्वज फहराएंगे. कांग्रेस नेता चेतन चौहान ने कहा, “30 जनवरी को श्रीनगर के क्रिकेट स्टेडियम में एक विशाल रैली का आयोजन किया जाएगा, जिसके लिए सभी तैयारियां कर ली गई हैं. यह एक ऐतिहासिक आयोजन होगा. इसको लेकर लोगों में उत्साह है.”

About Sonal Pandey

Check Also

LIC को तगड़ा झटका, अडानी के शेयर मूल्य में 22 फीसदी की गिरावट

एलआईसी को लगा तगड़ा झटका अडानी के शेयर मूल्य में 22 फीसदी की गिरावट एलआईसी …