Breaking News

अब सस्ती गाड़ी खरीदने का सपना होगा पूरा, ‘MG मोटर इंडिया’ खरीदारों को दे रही ये जबरदस्त ऑफर

 

  • एमजी ग्रुप ने शुरू की खास सर्विस
  • एमजी कारों के मालिक अपनी कारों को आसानी से बेच सकेंगे
  • एमजी कारों के ग्राहकों को उनके वाहन की बिक्री पर सर्वश्रेष्ठ कीमत उपलब्ध कराएंगे

नेशनल डेस्क:  कोरोना महामारी के बीच कार खरीदने वालों के लिए एक अच्छी खबर सामने आई है। दरअसल, ऑटो कंपनी एमजी मोटर इंडिया खरीदारों के लिए खुशखबरी लेकर आई है। एमजी ने बयान जारी कहा कि कंपनी ने सर्टिफाइड पुरानी कारों का कारोबार एमजी ReaSure के नाम से शुरू किया है। बयान में बताया गया है कि, एमजी कारों के मालिक अपनी कारों को आसानी से बेच सकेंगे। उनके लिए पुरानी कार के बदले में नया कंपनी मॉडल लेने की बाध्यता नहीं होगी। एमजी मोटर इंडिया के सीसीओ गौरव गुप्ता ने कहा, एमजी रीएश्योर कार्यक्रम के जरिये हम एमजी कारों के ग्राहकों को उनके वाहन की बिक्री पर सर्वश्रेष्ठ कीमत उपलब्ध कराएंगे।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

इसके साथ ही कंपनी ने बताया है कि सेकेंड हैंड कारों का आकलन 160 क्वालिटी चेक के आधार पर किया जाएगा। इन कारों की पुन: बिक्री से पहले कंपनी उनमें सभी आवश्यक सुधार और मरम्मत करेगी। बता दें कि कंपनी ने पिछले महीने अपनी SUV (एसयूवी) को भारत में 13.48 लाख रुपये की शुरुआती कीमत के साथ लॉन्च किया था।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

कंपनी  इससे पहले एमजी हेक्टर और ZS Electric निकाल चुकी है। कंपनी ने लॉन्च के टाइम पर यह भी कहा था कि यह एक इंट्रोडक्ट्री कीमत है जो सिर्फ 13 अगस्त तक ही उपलब्ध है, इसके बाद इस कार की कीमत 50,000 तक बढ़ा दी जाएगी। हेक्टर प्लस में कुछ कॉस्मेटिक बदलाव किए गए हैं, जो इसका लुक हेक्टर से अलग बनाते हैं। इसके इंट्ररियर डिइजाइन कि बात करें तो इसमें तीन लाइन में 6-सीट्स दी गई हैं। हेक्टर प्लस SUV (हेक्टर प्लस एसयूवी) में मुख्य बदलावों में मध्य-पंक्ति में कप्तान सीटों के साथ इसका 6-सीट वाला सेटअप शामिल है।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

इनमें 1.5 लीटर पेट्रोल, 1.5 लीटर पेट्रोल हाइब्रिड और 2 लीटर डीजल इंजन शामिल हैं। दोनों पेट्रोल इंजन 143PS की पावर और 250Nm टॉर्क जनरेट करते हैं। डीजल इंजन 170PS की पावर और 350Nm टॉर्क जनरेट करता है। तीनों इंजन के साथ 6 स्पीड मैन्युअल गियरबॉक्स स्टैंडर्ड दिया गया है। बिना हाब्रिड वाले पेट्रोल इंजन के साथ ड्यूल-क्लच ऑटोमैटिक गियरबॉक्स का भी ऑप्शन है।

 

 

About News Desk

Check Also

Ban on PFI: टेरर फंडिंग में PFI पर पांच साल का बैन, सहयोगी संगठनों पर भी कसा शिकंजा

केंद्र सरकार ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के खिलाफ कार्रवाई पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया पर …