Thursday, August 11, 2022
Home दिल्ली राफेल विवाद: ...

राफेल विवाद: फिर न्यायालय की शरण में गए यशवंत सिंहा और अरुण शौरी

नयी दिल्ली। राफेल विवाद हर दिन नया मोड़ ले रहा है। राफेल ने केंद्र सरकार को डिफेंसिव मोड़ पर खड़ा कर दिया है। अब पूर्व केन्द्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा और अरुण शौरी के साथ वरिष्ठ अधिवक्त प्रशांत भूषण एक बार फिर न्यायालय पहुंच गए। तीनों ने एक बार फिर राफेल मुद्दे पर 14 दिसंबर को आए उच्चतम न्यायालय के फैसले की समीक्षा के लिए बुधवार को पुर्निवचार याचिका दायर कर दिया।

न्यायालय ने अपने 14 दिसंबर के फैसले में फ्रांस से 36 राफेल विमानों की खरीदी प्रक्रिया में गड़बड़ी का आरोप लगाने वाली सभी जनहित याचिकाओं को खारिज कर दिया था। पुर्निवचार याचिका में तीनों ने आरोप लगाया है कि फैसला ‘‘सरकार की ओर से बिना हस्ताक्षर के सीलबंद लिफाफे में सौंपे गए स्पष्ट रूप से गलत दावों पर आधारित था।’’ उन्होंने याचिका पर सुनवाई खुली अदालत में करने का अनुरोध भी किया है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular