Breaking News

Swiggy में काम करने वालों को झटका, कर्मचारियों को निकाला बाहर

  • Swiggy में काम करने वालों को बड़ा झटका

  • 380 से ज्यादा कर्मचारियों की छंटनी

  • कंपनी का घाटा हुआ दोगुना

Swiggy layoff: अमेजन, ट्विटर, गूगल और माइक्रोसॉफ्ट के बाद अब स्विगी ने भी कर्मचारियों की छंटनी की है. स्विगी सीईओ ने कहा, “फूड डिलिवरी क्षेत्र का ग्रोथ रेट घटा है, जो कंपनी के अनुमानों के पूरी तरह से खिलाफ है। कंपनी को लाभप्रदाता लक्ष्यों को हासिल करने के लिए 10 फीसदी कर्मचारियों की छंटनी करने का फैसला लेना पड़ा.

कंपनी के सीईओ श्रीहर्ष मजेटी ने अपनी ओर से भेजे गए मेल में कर्मचारियों को कहा है कि सभी संभव उपायों पर विचार करने के बाद यह फैसला लिया गया है। कंपनी ने 380 क्षमतावान कर्मचारियों को निकालने के बारे में कहा कि हम यह कठिन फैसला अपनी टीम को छोटा करने के लिए कर रहे हैं. छंटनी का यह फैसला लेने के कई कारण बताने के साथ ही कर्मचारियों से इसके लिए माफी भी मांगी है।

380 से ज्यादा कर्मचारियों की छंटनी

कंपनी ने आगामी छंटनी पर मीडिया के सवाल का कोई जवाब नहीं दिया. इससे पहले दिसंबर में सामने आई रिपोर्ट्स में कहा गया था कि स्विगी जनवरी से 380 से अधिक कर्मचारियों या अपने कर्मचारियों के 5 फीसदी तक की छंटनी कर सकता है. स्विगी में आगामी छंटनी से कंपनी के प्रोडक्ट, इंजीनियरिंग और संचालन जैसे कार्यक्षेत्र प्रभावित होने की संभावना है. आगामी छंटनी से कैश बर्न को कम करने के लिए स्विगी की त्वरित वाणिज्य वितरण सेवा इंस्टामार्ट पर भी असर पड़ने की उम्मीद है.

कंपनी का घाटा हुआ दोगुना

पिछले वित्त वर्ष में 1,617 करोड़ रुपये की तुलना में वित्त वर्ष 22 में ऑनलाइन फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म का घाटा दोगुना होकर 3,629 करोड़ रुपये हो गया. रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज के वार्षिक वित्तीय विवरण के मुताबिक, वित्त वर्ष 22 में कुल खर्च 131 फीसदी बढ़कर 9,574.5 करोड़ रुपये हो गया.

About Ragini Sinha

Check Also

दिल्ली में हुई कंझावला जैसी एक और वारदात, स्कूटी सवार को कार ने टक्कर मारने के बाद घसीटा

दिल्ली में एक बार फिर कंझावला जैसा कांड सामने आया एक कार सवार ने स्कूटी …