Breaking News

नए तेवर और कलेवर में चलेगा संसद का मॉनसून सत्र

देश में पहली बार संसद में यह होगा बड़ा बदलाव
  • पहले 4 घंटे लोकसभा, फिर 4 घंटे चलेगी राज्यसभा की कार्यवाही
  • 1952 के बाद पहली बार दोनों सदन की संयुक्त कार्यवाही
  • सत्र के दौरान नहीं होगा प्रश्नकाल और शून्यकाल

नेशनल डेस्क: इस महीने के अंत या सितंबर के पहले हफ्ते में संसद के मानसून सत्र की कार्यवाही शुरू होने की उम्मीद है। अबकी बार मानसून सत्र नए तेवर और कलेवर के साथ चलेगा। 1952 के बाद पहली बार यह बदलाव देखने को मिलेगा। होगा यह कि मानसून सत्र में कार्यवाही के दौरान लोकसभा और राज्यसभा जुड़ जाएंगी। इस बार मानसून सत्र का आयोजन सेंट्रल हाल में होगा। कार्यवाही में दोनों सदनों की अलग-अलग दीर्घाओं का भी इस्तेमाल किया जाएगा। इस दौरान कई अलग-अलग जगहों में बैठे सांसद और मंत्री बड़े-बड़े टीवी स्क्रीन्स और वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से एक-दूसरे से जुड़े रहेंगे। पहले चार घंटे लोकसभा फिर दो घंटे के ब्रेक के बाद राज्यसभा की चार घंटे की कार्यवाही शुरू होगी।

कोरोना महामारी से बचने के लिए जरूरी दो गज की दूरी का पालन करने के लिए कार्यवाही के दौरान बैठने और कार्यवाही संचालन के लिए कई अहम बदलाव किए गए हैं। सबसे अहम बदलाव कार्यवाही के लिए राज्यसभा और लोकसभा का एक दूसरे के लिए इस्तेमाल किया जाना है। सूत्रों के मुताबिक लोकसभा की कार्यवाही पूर्वाह्न दस बजे से दोपहर बाद दो बजे तक और राज्यसभा की कार्यवाही दोपहर बाद चार बजे से शाम आठ बजे तक बुलाने पर मंथन हो रहा है।

राज्यसभा में ऐसी होगी स्थिति
उच्च सदन में कार्यवाही के दौरान 60 सदस्य राज्यसभा चैंबर में, 132 सदस्य लोकसभा चैंबर में और 51 सदस्य दोनों सदनों की अलग-अलग दीर्घाओं में बैठेंगे। राज्यसभा में जिन 60 सदस्यों को जगह मिलेगी उनमें प्रधानमंत्री, नेता सदन, नेता प्रतिपक्ष, विभिन्न दलों के संसदीय दल के नेता और वरिष्ठ मंत्री शामिल होंगे। बाकी सदस्यों को लोकसभा और विभिन्न दीर्घाओं में जगह मिलेगी।

लोकसभा में ऐसी होगी स्थिति
निचले सदन में कार्यवाही के दौरान (132 सदस्यों में) प्रधानमंत्री, कांग्रेस समेत विभिन्न दलों के संसदीय दलों के नेताओं, पूर्व प्रधानमंत्री, सभी मंत्री और विभिन्न दलों के कुछ वरिष्ठ नेताओं को जगह मिलेगी। 60 सांसद राज्यसभा, 51 अलग-अलग दीर्घाओं और 200 सदस्यों को सेंट्रल हॉल में जगह मिलेगी। कार्यवाही को सुचारू रूप से चलाने के लिए राज्यसभा में चार और अलग-अलग दीर्घाओं के साथ सेंट्रल हॉल में बड़ी टीवी स्क्रीन लगाने की व्यवस्था की गई है।

About News Desk

Check Also

Exam Paper Leak: छत्तीसगढ़ में 11वीं व 12वीं का अंग्रेजी पेपर Youtube पर लीक, शिक्षा विभाग में मचा हड़कंप

छत्तीसगढ़ में 11वीं व 12वीं का लीक हुआ अंग्रेजी का पेपर 11वीं व 12वीं  खा …