Breaking News

‘आंध्र में हिंदुओं के साथ हो रहा अल्पसंख्यकों जैसा व्यवहार’ : वाईएसआर कांग्रेस, पीएम मोदी से की हिंदू आयोग की मांग

  • वाईएसार सदस्य राजू ने लगाए गंभीर आरोप 
  • कहा—हिंदुओं के साथ हो रहा गलत व्यवहार
  • कर्मयोगी मोदी से की आयोग की मांग

 

नेशनल डेस्क : लोकसभा में कृषि विधेयक को लेकर चल रही चर्चा के बीच वाईएसआर कांग्रेस ने बड़ा आरोप लगाया है। उनका कहना है कि आंध्रप्रदेश में हिंदुओं के साथ अल्पसंख्यकों जैसा व्यवहार क्या जा रहा है। रघुराम कृष्ण राजू ने शनिवार को जीरो ऑवर में इस विषय को सवाल उठाते हुए कहा कि आंध्र प्रदेश में इस समय हिंदू मंदिरों के संबंध में ‘कंस्ट्रक्टिव डिस्ट्रक्शन’ चल रहा है।

राजू का कहना है कि इस विषय को देखने के लिए ईसाई आयोग और मुस्लिम आयोग की तरह एक धार्मिक आयोग या हिंदू आयोग भी होना चाहिए। राजू ने इस संबंध में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हस्तक्षेप की मांग करते हुए कहा कि केवल एक कर्मयोगी ही इस मुद्दे को देख सकते हैं। उन्होंने कहा, ‘अन्यथा हमारे राज्य में अत्याचार हो रहे हैं।’

बिना नाम लिए तिरूपति देवस्थानम के अध्यक्ष पर साधा निशाना 

वाईएसआर के असंतुष्ट सदस्य राजू ने बिना किसी का नाम लिए आरोप लगाया कि तिरुपति के पास तिरुमाला में भगवान वेंकटेश्वर के प्रसिद्ध मंदिर में सदियों पुराने नियमों को केवल एक व्यक्ति के लिए बदलने का प्रयास किया जा रहा है। उनके इस बयान से ऐसा लग रहा है  कि उनका इशारा तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम के अध्यक्ष वाई वी सुब्बा रेड्डी की ओर था।

दरअसल, सुब्बा रेड्डी ने बयान दिया था कि मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी को मंदिर के दौरे के समय भगवान वेंकटेश्वर में आस्था जताते हुए अनिवार्य घोषणापत्र पर दस्तखत करने की जरूरत नहीं है। जबकि नियम के अनुसार मंदिर दौरे पर आए किसी गैर-हिंदू को घोषणापत्र पर हस्ताक्षर करने होते हैं।

 

लोकसभा में बीजेपी को मिला वाईसआर कांग्रेस का समर्थन 

लोकसभा में कृषि के तीन विधेयकों को लेकर लगातार चल रही बहस के बीच वाईएसआर कांग्रेस  के सदस्य वि. विजयसाई रेड्डी (V. Vijayasai Reddy) का बयान सामने आया है। उन्होंने कृषि विधेयकों के विरोध को कांग्रेस का ‘पाखंड’ करार दिया।

About News Desk

Check Also

National news: पीएफआई के निशाने पर थे 5 आरएसएस के नेता, केंद्र सरकार ने दी वाई कैटेगरी की सुरक्षा

पीएफआई की हिट लिस्ट में आरएसएस नेताओं के नाम आरएसएस के 5 नेताओं को मिली …