Breaking News

कांग्रेस की बड़ी तैयारी, राहुल के बाद प्रियंका संभालेंगी मोर्चा

  • राहुल के बाद अब प्रियंका संभालेंगी मोर्चा

  • प्रियंका गांधी हर प्रदेश में महिला मार्च का करेंगी नेतृत्व

  • केंद्र की विफलताओं को उजागर करेगी कांग्रेस

National Desk: भाजपा के खिलाफ कांग्रेस मजबूत मोर्चेबंदी में जुटी हुई है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की अगुवाई में निकली भारत जोड़ो यात्रा के समापन के पहले ही कांग्रेस एक और बड़े अभियान की शुरुआत करने की तैयारी में जुटी हुई है। राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा का समापन 30 जनवरी को कश्मीर के श्रीनगर में होने वाला है। यात्रा के समापन से पहले कांग्रेस गणतंत्र दिवस से हाथ से हाथ जोड़ो अभियान शुरू करने जा रही है।

इस अभियान में कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी की महत्वपूर्ण भूमिका होगी। इस अभियान के तहत सभी राज्यों की राजधानियों में महिला मार्च निकालने की तैयारी है जिसकी अगुवाई प्रियंका गांधी करेंगी। भारत जोड़ो यात्रा के बाद इस अभियान को कांग्रेस की बड़ी मुहिम के रूप में देखा जा रहा है।

कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि राहुल गांधी की अगुवाई में निकली भारत जोड़ो यात्रा को पूरे देश में व्यापक जनसमर्थन हासिल हुआ है। यात्रा को मिले इस समर्थन से पार्टी का उत्साह बढ़ा है और अब पार्टी एक और बड़े अभियान की शुरुआत करने जा रही है। दो महीने तक चलने वाले हाथ से हाथ जोड़ो अभियान के तहत पार्टी केंद्र सरकार की विफलताओं को उजागर करने के साथ ही राहुल गांधी का संदेश हर घर तक पहुंचाने की कोशिश करेगी। पार्टी की ओर से त्रिस्तरीय अभियान का खाका तैयार किया गया है।

इस अभियान के तहत प्रियंका गांधी सभी प्रदेशों की राजधानियों में महिला मार्च की अगुवाई करेंगी। इसके साथ ही वे अभियान के तहत आयोजित होने वाली पार्टी की रैलियों में भी हिस्सा लेंगी। हरियाणा और पंजाब का साझा मार्च चंडीगढ़ में निकाला जाएगा क्योंकि चंडीगढ़ दोनों प्रदेशों की साझा राजधानी है।

कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता के मुताबिक हाथ से हाथ जोड़ो अभियान में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव केसी वेणुगोपाल और सभी राज्यों के मुख्यमंत्री भी हिस्सा लेंगे। इस अभियान के तहत सभी बूथों तक पहुंचने का लक्ष्य तय किया गया है। अभियान के तहत विभिन्न राज्यों की राजधानियों में रैलियों का आयोजन भी किया जाएगा। जिला स्तर पर भी सम्मेलन और अन्य कार्यक्रम आयोजित करने की तैयारी है।

चुनाव आयोग की ओर से पूर्वोत्तर के तीन राज्यों त्रिपुरा, मेघालय और नागालैंड में चुनाव कार्यक्रम की घोषणा की जा चुकी है। इन तीनों राज्यों के बाद कर्नाटक में विधानसभा चुनाव होने वाला है। ऐसे में चुनावों के मद्देनजर आने वाले दिनों में राहुल गांधी की चुनावी व्यस्तता बढ़ जाएगी। ऐसे में अभी यह स्पष्ट नहीं है कि हाथ से हाथ जोड़ो अभियान के तहत आयोजित होने वाली रैलियों में राहुल गांधी हिस्सा लेंगे या नहीं।

कांग्रेस की ओर से भारत जोड़ो यात्रा के समापन कार्यक्रम की भी जोरदार तैयारियां की जा रही हैं। कन्याकुमारी से शुरू होने वाली यह यात्रा अब कश्मीर पहुंच चुकी है और 30 जनवरी को श्रीनगर में ध्वजारोहण के साथ इस यात्रा का समापन होने वाला है। समापन कार्यक्रम में कांग्रेस की ओर से विपक्षी दलों के नेताओं को भी आमंत्रण दिया गया है। हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि कितने दलों के नेता इस कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए पहुंचेंगे। समापन कार्यक्रम के बाद कांग्रेस की ओर से हाथ से हाथ जोड़ो अभियान को कामयाब बनाने की तैयारी की जा रही है। पार्टी सूत्रों का कहना है कि इसके जरिए पार्टी भाजपा के खिलाफ मजबूत अभियान छेड़ने की कोशिश में जुटेगी।

About Ragini Sinha

Check Also

दिल्ली में हुई कंझावला जैसी एक और वारदात, स्कूटी सवार को कार ने टक्कर मारने के बाद घसीटा

दिल्ली में एक बार फिर कंझावला जैसा कांड सामने आया एक कार सवार ने स्कूटी …