Breaking News

26 जनवरी को हलवा सेरेमनी, जानें क्या है इसका महत्त्व

  • कल आयोजित होगी हवला सेरेमनी

  • हवला सेरेमनी का असली महत्व क्या है

  • परिवार वालों से दूर रहते कर्मी व अधिकारी

National Desk: केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 1 फरवरी को संसद भवन में बजट पेश करने जा रही है। वित्त मंत्रालय ने बताया कि 26 जनवरी (गुरुवार) को बजट जारी करने से पहले सरकार की ओर से हलवा सेरेमनी का आयोजन किया गया है। इस सेरेमनी के साथ बजट का डॉक्यूमेंट तैयार करने की आखिरी चरण की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।

हवला सेरेमनी की आयोजन की जानकारी वित्त मंत्रालय ने बुधवार को अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्विट कर दी। मंत्रालय ने कहा कि 26 जनवरी गुरुवार को होने वाले हवला सेरेमनी का आयोजन कि वित्त मंत्रालय के नार्थ ब्लॉक में आयोजित किया जाएगा। इसी के साथ केंद्रीय बजट 2023-24 के लिए बजट तैयार करने की प्रक्रिया के अंतिम चरण भी शुरू हो  जाएगा।

हलवा सेरेमनी और क्यों है महत्वपूर्ण ?

आम बजट पेश होने से पहले हर साल हवला सेरेमनी का आयोजन किया होता है। यह परंपरा हर साल निभाई जाती है। कर्मियों की हार्ड कोर मेहनत के बाद आम बजट तैयार होता है, जिसमें वित्त मंत्रालय के तमाम अधिकारी व अन्य कर्मी शामिल होते हैं। इन कर्मियों की मेहनत को देखते हुए सरकार हलवा सेरेमनी का आयोजन करवाती है। इस दौरान नॉर्थ ब्लॉक में एक बड़ी सी कढ़ाई पर हलवा तैयार होता है और इस हलवे को खुद मौजूदा समय का केंद्रीय वित्त मंत्री अपने हाथ से बनाता या बनती है, जिसके बाद अधिकारियों व कर्मियों को परोसा जाता है। इस विधि को हलवा सेरेमनी कहा जाता है। आपको बता दें कि मौजूदा समय देश की वित्त मंत्री एक महिला है, जिनका नाम निर्मला सीतारमण है। इस बार आयोजित होने वाली हलवा सेरेमनी में वही शामिल होंगी।

परिवार वालों से दूर रहते कर्मी व अधिकारी

हलवा सेरेमनी में शामिल होने बाद अधिकारी और कर्मी नार्थ ब्लॉक स्थित वित्त मंत्रालय के नीचे बने बेसमेंट में चले जाते हैं। इस सेरेमनी के बाद 10 दिन बाद संसद भवन में बजट पेश होता है। तब तक यह कर्मी किसी से कोई बात नहीं करते हैं यहां तक अपने परिवार वालों से भी नहीं। सरकार यह कदम इस लिए उठाती है, ताकि बजट से जुड़ी कोई भी जानकारी बजट पेश होने से पहले बाहर न आए। संसद में बजट पेश होते ही यह सभी अधिकारी व कर्मी नॉर्थ ब्लॉक से बाहर आ जाते हैं।

अगर हवला सेरेमनी की इतिहास की बात करें तो इसको लेकर कोई ऐतिहासिक जानकारी सामने नहीं आई है कि इसकी शुरुआत कब से हुई है। हालांकि यह परंपरा दशकों को पुरानी है और तब से आयोजित होती आ रही है।

समारोह में यह लोग होंगे शामिल

गुरुवार को संसद भवन के नार्थ ब्लॉक के वित्त मंत्रालय में आयोजति होने जा रही हलवा समारोह में केंद्रीय वित्त और कॉर्पोरेट मामलों की मंत्री निर्मला सीतारमण के अलावा केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री, वित्त मंत्रालय के सचिव, वरिष्ठ अधिकारियों और केंद्रीय बजट प्रेस के सदस्य शामिल होंगे।

केंद्र सरकार का यह तीसरा कागज रहित बजट रहेगा। इससे पहले सरकार साल 2022 और साल 2021 का केंद्रीय बजट पेपरलेस पेश किया था। केंद्रीय बजट 2023-24 1 फरवरी, 2023 को पेश किया जाएगा। बजट दस्तावेज 1 फरवरी को संसद में वित्त मंत्री द्वारा बजट भाषण पूरा होने के बाद Android और Apple OS दोनों प्लेटफार्मों पर “केंद्रीय बजट मोबाइल ऐप” पर उपलब्ध होंगे।

About Ragini Sinha

Check Also

LIC को तगड़ा झटका, अडानी के शेयर मूल्य में 22 फीसदी की गिरावट

एलआईसी को लगा तगड़ा झटका अडानी के शेयर मूल्य में 22 फीसदी की गिरावट एलआईसी …