Thursday, July 7, 2022
Home उत्तर प्रदेश Hello gang: नौकरी का झांसा देकर दो हजार लोगों से ठगे पांच...

Hello gang: नौकरी का झांसा देकर दो हजार लोगों से ठगे पांच करोड़ रुपये, ऐसे देते थे लूट को अंजाम…..

  • आगरा पुलिस ने हेलो गैंग के सरगना सहित 13 सदस्यों को पकड़ा
  • उत्तर प्रदेश सहित 12 राज्यों के लोगों को बनाया अपना शिकार
  • सोशल साइट्स पर विज्ञापन देकर देते थे नौकरी का झांसा
  • आरोपियों के पास से 25 आधार कार्ड, 40 मोबाइल सहित लाखों का सामान बरामद

यूपी डेस्क: देश में आए दिन लूटपाट की वारदात सामने आती रहती हैं। आरोपी बेखौफ होकर अपनी करतूत को अंजाम देते हैं। ऐसा ही एक मामला चंबल के बीहड़ स्थित जैतपुर के दड़हेता गांव से सामने आया है। पुलिस और साइबर सेल की टीम ने एक और हेलो गैंग के सरगना सहित 13 सदस्यों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बताया कि ये आरोपी लोगों को नौकरी का झांसा देकर लूटते थे। इससे पहले भी ऐसे दो गैंग पकड़े गए हैं।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, इस गैंग ने दो साल में उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, गुजरात, राजस्थान, महाराष्ट्र,जम्मू कश्मीर, कर्नाटक, बिहार, हिमाचल प्रदेश,ओडिशा, दिल्ली, उत्तराखंड आदि राज्य के दो हजार से अधिक लोगों को पार्ट टाइम और फुल टाइम नौकरी का विज्ञापन देकर लगभग पांच करोड़ रुपये की ठगी की है। आरोपियों कि ठगी हुए रकम अभी बरामद नहीं हुई है। आगरा पुलिस के एसएसपी बबलू कुमार ने बताया कि यह लोग सोशल साइट्स पर विज्ञापन देते हैं। और विज्ञापन में कई प्रकार की नौकरी लगवाने का झांसा देते थे। जिसमे कंपनी का मैनेजर, सुपरवाइजर,वर्क फ्रॉम होम, सिक्योरिटी गार्ड,पार्ट टाइम आदि जैसी जॉब शामिल हैं। इस कॉल गैंग के सरगना का नाम कमलेश कुमार है।

बता दें, गैंग के सदस्य लोगों को कॉल करने पर नौकरी का लालच देते थे और साथ ही कॉल करके खातों में रकम जमा करा लेते थे। इसके बाद मोबाइल नंबर बंद कर लेते थे। लोगों के कॉल करने पर यह लोग 4,999 से लेकर 49,999 रुपये तक की नौकरी लगवाने को कहते थे। रजिस्ट्रेशन के नाम पर 400 रुपए अलग से पेटीएम या अन्य किसी ऑनलाइन पेमेंट ऐप से जमा करा लेते थे। इसके बाद अप्वाइंटमेंट लेटर के नाम पर कई बार रकम जमा कराते थे। और ये लोग किराए पर लिए खातों से रकम निकालते थे।

इस मामले में आगरा पुलिस से गुजरात के तीन लोगों ने ई-मेल के ज़रिए शिकायत की थी। इसके बाद साइबर क्राइम सेल को लगा कर इस मामले जांच की गई। जांच के बाद पुलिस ने गैंग के 13 आरोपियों को पकड़ लिया। कुछ आरोपी फरार हो गए हैं। 13 आरोपियों के पास से 45 फर्जी सिम कार्ड, 40 मोबाइल, 2 कारें, 6 बाइक बरामद हुए हैं।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com