Breaking News

महंत नरेंद्र गिरि खुदकुशी केस आज होगी सुनवाई, आनंद गिरि की जमानत पर होगा फैसला

  • महंत नरेंद्र गिरि खुदकुशी केस आज होगी सुनवाई

  • आनंद गिरि की जमानत पर होगा फैसला

यूपी डेस्क: अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की आत्महत्या के मामले में उकसाने के आरोपी शिष्य आनंद गिरि की जमानत अर्जी पर सुनवाई आज होगी।

Mahant Narendra Giri की ताज़ा खबरे हिन्दी में | ब्रेकिंग और लेटेस्ट न्यूज़ in Hindi - Zee News Hindi

आनंद का समाप्त हो गया था नरेंद्र गिरि से विवाद

याची आनंद गिरि की तरफ से वरिष्ठ अधिवक्ता गोपाल स्वरूप चतुर्वेदी ने तर्क दिया कि खुदकुशी के पहले लिखे सुसाइड नोट में महंत ने दूसरे व्यक्ति के हवाले से याची आनंद गिरि पर उन्हें बदनाम करने का आरोप लगाया है। उनकी अपनी व्यक्तिगत जानकारी में बातें नहीं लिखी गई है। सुनी हुई बातों को लेकर आरोप लगाया गया है। याची का महंत से हुआ विवाद समाप्त हो गया था। उन्होंने माफ कर दिया था। कोई दुराव नहीं रह गया था। याची घटना से दो माह पहले से हरिद्वार में रह रहा था।

mahant narendra giri was born in chhatauni village of prayagraj know who are in their family vwt | प्रयागराज के छतौनी गांव में हुआ था महंत नरेंद्र गिरि का जन्म, जानिए उनके

महंत नरेंद्र गिरि से आत्महत्या से पहले याची द्वारा मोबाइल पर बात करने और भयभीत करने का कोई साक्ष्य नहीं हैं। वह घटनास्थल से काफी दूर था। किसी दूसरे व्यक्ति ने उन्हें गलत जानकारी देकर आत्महत्या की ओर धकेला है, जिसमें याची कोई भूमिका नहीं है। उनकी मृत्यु से याची को कोई लाभ न होकर नुकसान ही हुआ है। समय की कमी के कारण सुनवाई पूरी नहीं हो सकी। गुरुवार को वरिष्ठ अधिवक्ता ज्ञान प्रकाश व एडवोकेट संजय यादव सीबीआई का पक्ष रखेंगे।

Hearing on Anand Giri Bail Plea in Akhara Parishad President Narendra Giri Suicide Case - अखाड़ा परिषद अध्यक्ष नरेंद्र गिरि की आत्महत्या में आनंद गिरि की जमानत पर सुनवाई आज

केस की सुनवाई सीबीआई की लखनऊ पीठ में होनी चाहिए: CBI अधिवक्ता

सीबीआई अधिवक्ता ने कहा था कि मामले की जांच सीबीआई कर रही है। मामले में एफआईआर दर्ज कर आरोप पत्र दाखिल किया है, लिहाजा, केस की सुनवाई सीबीआई की लखनऊ पीठ में होनी चाहिए। इस पर जिला शासकीय अधिवक्ता गुलाब चंद्र अग्रहरि और वादी के अधिवक्ताओं ने तर्क दिया कि सीबीआई को मामला सुपुर्द होने से पहले स्थानीय पुलिस एफआईआर दर्ज कर जांच कर रही थी। मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने उसका संज्ञान लिया और आरोपित को न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। सीबीआई तो इस मामले में बाद में आई, इसलिए ट्रायल पर उसका क्षेत्राधिकार नहीं बनता है।

Mahant Narendra Giri: Dispute With Disciple Anand Giri Was A Matter Of Discussion, Even After Reconciliation, Guru Did Not Come On Purnima - महंत नरेंद्र गिरि : अपने गुरु की पीएम तक

20 सितंबर 2021 को फंदे पर लटके मिले थे नरेंद्र 

स्वामी नरेंद्र गिरि 20 सितंबर 2021 को श्री मठ बाघम्बरी गद्दी के अतिथि कक्ष में पंधे में रस्सी के फंदे से लटके मिले थे। पुलिस को कमरे में नौ पन्नों का सुसाइड नोट मिला था जिसके बाद रात में पुराने शिष्य आनंद गिरि, लेटे हनुमान मंदिर के पुजारी आद्या प्रसाद तिवारी और उसके बेटे संदीप तिवारी के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का केस लिखा गया था। अगले दो दिन के भीतर तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया। फिर सरकार ने जांच सीबीआइ को सौंप दी थी जिसने आनंद गिरि को रिमांड पर लेकर पूछताछ की और हरिद्वार ले जाकर लैपटाप बरामद किया था। तब से आनंद गिरि नैनी सेंट्रल जेल में बंद है।

About News Desk

Check Also

Mukhtar Ansari: गैंगस्टर के मामले में माफिया मुख्तार अंसारी दोषी करार, पांच साल की मिली सजा

माफिया मुख्तार अंसारी की मुसीबतें बढ़ी इलाहाबाद हाई कोर्ट ने सुनाई की पांच साल की …