Breaking News

दीवाली से पहले नहीं होगी शुरू मुंबई की लोकल ट्रेनें, स्टेशन पर यात्रियों ने किया विरोध प्रदर्शन

  • मुंबई की लोकल ट्रेनों की सेवाओं को अभी नहीं खोला जाएगा
  • यात्री ट्रेन सेवाओं के स्थगित(Postponed) होने से नाराज
  • लोकल ट्रेनों में यात्रा की अनुमति देने को लेकर रेलवे स्टेशन के बाहर लोगो का प्रदर्शन

नेशनल डेस्क: देश में COVID-19 की वजह से सारी ट्रेंस, मेट्रो सेवाएं बंद चल रही थी हाल ही में पहले ट्रेन सेवाएं शुरू हुई और फिर मेट्रो सेवाएं लेकिन मुंबई में महामारी फैलने के कारण लागू देशव्यापी लॉकडाउन के कारण मुंबई की लाइफलाइन कहे जाने वाली लोकल ट्रेनों की सेवाओं को अभी नहीं खोला गया है। यह सेवाएं 22 मार्च से निलंबित है।वर्तमान में, आवश्यक सेवा कर्मी जो COVID -19 महामारी से लड़ रहे हैं, उन्हें केवल मुंबई में उपनगरीय ट्रेनों से यात्रा करने की अनुमति है। लोकल ट्रेनों में लोगो को यात्रा करने में आसानी रहती है यात्री ट्रेन सेवाओं के स्थगित(Postponed) होने से नाराज हैं और रेलवे स्टेशनों के बाहर यात्रियों ने विरोध प्रदर्शन किया है।

रेलवे अधिकारियों के अनुसार, “कोविद -19 के कारण 22 मार्च को निलंबित की गई ट्रेन सेवाएं, दीपावली के मध्य नवंबर तक पूरी क्षमता से फिर से शुरू होने की संभावना नहीं है।” सुबह लगभग 11 बजे यह प्रदर्शन हुआ जब कार्यालय जाने वाले कार्यकर्ता स्टेशन के बाहर इकट्ठा हुए और उपनगरीय ट्रेन सेवाओं को फिर से शुरू करने की मांग की।

लोकल ट्रेनों को फिर से चालू करने और यात्रा की अनुमति देने की मांग को लेकर सोमवार दोपहर लगभग 300 नाराज यात्रियों ने विरार रेलवे स्टेशन के बाहर प्रदर्शन किया। रेलवे सुरक्षा पुलिस (RPF), सरकारी रेलवे पुलिस (GRP) और स्थानीय पुलिस कर्मियों द्वारा प्रदर्शनकारियों को आधे घंटे के भीतर शांत कर दिया गया।

इससे पहले 22 जुलाई को नालासोपारा में गुस्साए यात्रियों ने मांग की थी कि उन्हें लोकल ट्रेनों से यात्रा करने की अनुमति दी जाए। इसके बाद प्रदर्शनकारियों द्वारा बैरिकेड्स को तोड़ दिया गया रेल सेवाओं को बाधित करने के लिए पटरियों पर खड़े हो गए थे।

About Misbah Khanam

Check Also

Mann Ki Baat: पीएम मोदी की मन की बात कार्यक्रम शुरू, चीतों के नामकरण के मांगे सुझाव

पीएम मोदी की मन की बात का 93 वां एपिसोड आज 23 भाषाओं में कार्यक्रम …