Breaking News

सड़क दुर्घटना में बाल-बाल बचे केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे,नहर में पलटी काफिले की गाड़ी

  • केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे  सड़क दुर्घटना में बाल-बाल बचे

  • घटना में चार पुलिसकर्मी हुए घायल

  • कुछ दिन पहले हुई थी पत्थरबाजी की घटना

(बिहार डेस्क) केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे एक सड़क दुर्घटना में बाल-बाल बचे.अहम बात यह है कि इस हादसे में अश्विनी चौबे पूरी तरह से सुरक्षित हैं, हालांकि जो जीप पलटी है उसमे कुछ पुलिस के जवान सवार थे उन्हें चोट आई है। हादसा बक्सर से पटना जाने के दौरान हुआ। केंद्रीय राज्य मंत्री अश्विनी चौबे ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो फुटेज पोस्ट कर इसकी जानकारी दी। यह हादसा मथिला और नारायणपुर के बीच हुआ। हादसे में जीप के ड्राइवर समेत पांच पुलिसकर्मी घायल हो गए।

बता दें कि रविवार रात केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे बक्सर में आयोजित एक कार्यक्रम में गए थे. वहां से पटना लौटने  के क्रम में डुमराव के मठीला-नारायणपुर पथ के सड़की पुल के नहर में सूरक्षाकर्मियों की गड़ी पलट गई. इस गाड़ी के पीछे ठीक केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे अपनी इनोवा गाड़ी में सवार थे. इनके ड्राइवर के सूझबूझ से गाड़ी को नियंत्रित किया और केंद्रीय मंत्री की जान बचा ली.

नहर में जो गाड़ी पलटी थी उसमें ड्राइवर समेत चार सूरक्षाकर्मी सवार थे. गाड़ी पलटने से चार लोग गंभीर रूप से घायल  है. केंद्रीय मंत्री ने अन्य लोगों की मदद से सभी घायल को सदर अस्पताल में भर्ती कराया. अस्पताल में सभी का इलाज चल रहा है.

केंद्रीय मंत्री चौबे इन दिनों बिहार में हैं। बीते कुछ दिनों से जिस तरह की तस्वीरें सामने आ रही है उसपर केंद्रीय मंत्री ने बिहार सरकार की घोर निंदा की है। बिहार के बक्सर में किसानों और पुलिस के बीच हिंसक झड़प हुई है। इस दौरान वाहनों और मकानों को फूंक दिया गया है। किसानों ने आरोप लगाया है कि पुलिस ने महिलाओं पर भी लाठीचार्ज किया। हालांकि बिहार का दुर्भाग्य ये है कि यहां बड़े से बड़ा बवाल और लाठीचार्ज हो जाते हैं लेकिन मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री को इस बात की खबर ही नहीं होती है। इसपर केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने बिहार सरकार को जमकर फटकार लगाई है।

Road Accident Union Minister Ashwini Choubey convoy victim of road accident four policemen injured Road Accident: केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे का काफिला सड़क हादसे का शिकार, पांच पुलिसकर्मी घायल

एक अन्य ट्वीट में अश्विनी चौबे ने लिखा, ”बीजेपी के कार्यकर्ता अजय तिवारी, मेरे बॉडीगार्ड नागेंद्र कुमार चौबे, मोहित कुमार, धनेश्वर कुमार, कुंजबिहारी ओझा, एएसआई जयराम कुमार, मुकेश कुमार, सुजॉय कुमार, प्रेमकुमार सिंह ने फुर्ती दिखाते हुए नहर में पलटी गाड़ी से पुलिसकर्मियों को निकालने में अहम भूमिका निभाई.”

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे शुक्रवार को बक्सर स्थित बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा के पास अनशन पर बैठ हुए थे. इस दौरान केंद्रीय मंत्री रामायण का पाठ किया. केंद्रीय मंत्री द्वारा रामायण पाठ का पढ़ना चंद्रशेखर के दिए गए बयान से जोड़कर देखा जा रहा है. वहीं, बक्सर के चौसा के बनारपुर में ग्रामीणों पर हुए पुलिस लाठीचार्ज के खिलाफ केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे अनशन पर बैठे थे. इस धरना प्रदर्शन में शामिल होने के लिए बीजेपी के कई राजनीतिक दिग्गज पहुंचे थे. पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी भी धरना स्थल पर पहुंचे थे.

वहीं, कुछ दिन पहले केंद्रीय मंत्री अश्वनी चौबे के काफिले पर पत्थरबाजी की घटना हुई थी. इस घटना में केंद्रीय मंत्री बाल-बाल बचे. घटना बक्सर के बनारपुर गांव की है. पुलिस द्वारा महिलाओं और बच्चों पर लाठियां बरसाने, नाबालिग बच्चों के पकड़े जाने को लेकर लोग आक्रोशित थे. बक्सर पहुंचे सांसद को गांव के लोगों के आक्रोश का सामना करना पड़ा था.

सड़क दुर्घटना में बाल-बाल बचे केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे, नहर में पलटी काफिले की गाड़ी, कई घायल

About Sonal Pandey

Check Also

दिल्ली में हुई कंझावला जैसी एक और वारदात, स्कूटी सवार को कार ने टक्कर मारने के बाद घसीटा

दिल्ली में एक बार फिर कंझावला जैसा कांड सामने आया एक कार सवार ने स्कूटी …