Breaking News

UP news: जौनपुर में एक लाख का इनामी बदमाश पुलिस मुठभेड़ में ढेर, एक सिपाही को भी लगी गोली

  • जौनपुर में पुलिस को मिली बड़ी सफलता

  • 1 लाख का इनामी बदमाश एनकाउंटर में ढेर

  • मुठभेड़ में एक सिपाही भी गोली लगने से घायल

यूपी डेस्क: जौनपुर में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने एक लाख के इनामी कुख्यात अपराधी विनोद सिंह को मार गिराया है। पुलिस की यह मुठभेड़ जिले के बदलापुर थाना क्षेत्र के देवरिया गांव के पास हुई। वहीं एनकाउंटर के दौरान गोलियां की तड़तड़ाहट से पूरा इलाका दहल उठा। एसपी ने बताया कि मारे गए बदमाश के ऊपर लूट, हत्या डकैती समेत दो दर्जन से अधिक मुकदमे दर्ज थे। पुलिस उसकी सरगर्मी से तलाश कर रही थी। अभी हाल ही में इसने एक डॉक्टर को फोन कर रंगदारी मांगी थी। रंगदारी न देने पर जान से मारने की धमकी दी थी। बदमाश के शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

यह भी पढ़ें: National news: प्रधानमंत्री मोदी आज 5जी सेवा की करेंगे शुरुआत, पहले फेज में देश के 13 शहरों में होगी शुरुआत

बता दें, पुलिस और बदमाशों के बीच एनकाउंटर शुक्रवार देर शाम को हुआ। एसपी अजय साहनी ने बताया कि पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि दो बदमाश बाइक पर सवार होकर आ रहे हैं। इस पर थाना पुलिस ने रास्ते में चेकिंग लगा दी। दोनों बदमाशों ने रास्ते में जब पुलिस को चेकिंग करते देखा तो बाइक घुमाकर भागने लगे। बदमाशों को भागते देख पुलिस ने उनका पीछा किया। इस पर बदमाशों ने पुलिस पर फायर कर दिया। वहीं पुलिस की जवाबी कार्रवाई में गोली लगने से एक बदमाश घायल हो गया, जबकि उसका साथी मौका पाकर फरार हो गया। इस गोलीबारी की वारदात में एक सिपाही भी गोली लगने से घायल हो गया। जिसके बाद पुलिस दोनों को लेकर अस्पताल पहुंची। जहां इलाज के दौरान बदमाश की मौत हो गई। फिलहाल फरार बदमाश की तलाश की जा रही है।

एसएसपी अजय साहनी ने बताया कि बदमाश की जेब से एक पहचान पत्र मिला, जिससे उसकी पहचान हुई। एसपी ने बताया कि मृतक बदमाश का नाम विनोद सिंह उर्फ लल्ला है। मारा गया बदमाश जौनपुर जिले के ही बक्शा-बदलापुर लाइन बाजार समेत आसपास के थाना इलाकों में लूट, हत्या की वारदातों को अंजाम देता था। उसके ऊपर जौनपुर पुलिस के अलावा एडीजी वाराणसी ने भी एक लाख रुपये का इनाम घोषित कर रखा था। पुलिस काफी समय से इसकी तलाश में जुटी थी, लेकिन ये पकड़ में नहीं आ रहा था। बदमाश पर जिले के विभिन्न थानों में 24 से अधिक मामले दर्ज हैं। अभी हाल ही में इसने एक डॉक्टर को फोन कर रंगदारी मांगी थी। रंगदारी न देने पर जान से मारने की धमकी दी थी।

यह भी पढ़ें: इलाहाबाद विश्वविद्यालय में फीस वृद्धि के विरोध में आमरण अनशन पर बैठे तीन छात्रों की निकाली गई शव यात्रा

About Ravi Prakash

Check Also

चाचा भतीजा हुए एक, शिवपाल यादव डिंपल के लिए मांग रहे वोट, कार्यकर्ताओं को दी सलाह

चाचा भतीजा हुए एक शिवपाल यादव डिंपल के लिए मांग रहे वोट कार्यकर्ताओं को दी …