Breaking News

भारत में कब आएगी कोरोना वैक्सीन, डॉ. हर्षवर्धन ने राज्यसभा में दी जानकारी

  • केंद्र और राज्य सरकारें लड़ रही हैं कोरोना के खिलाफ जंग
  • PM मोदी के नेतृत्व में पूरा देश लड़ रहा है लड़ाई
  • PPE किट बनाने वाली 110 कंपनियां हो चुकी हैं देश में

नेशनल डेस्क: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने आज राज्यसभा में कहा कि भारत में नए कोरोना वैक्सीन के लिए ट्रायल्स फेस एक, फेस दो और फेस तीन में पहुंच गए हैं। डॉ हर्षवर्धन ने कहा कि बीते कुछ महीने से राज्य और केंद्र की सरकार कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रही है। पीएम मोदी के नेतृत्व में पूरा देश मिलकर कोरोना की लड़ाई को लड़ रहा है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में एक एक्सपर्ट ग्रुप इसका अध्ययन कर रहा है और मुझे उम्मीद है कि अगले साल की शुरुआत तक भारत में वैक्सीन उपलब्ध हो जानी चाहिए, हम डब्ल्यूएचओ के साथ भी कोऑर्डिनेट कर रहे हैं। उन्होंने कोरोना संक्रमण को रोकने की दिशा में सरकार द्वारा उठाए गए कदमों की जानकारी देते हुए कहा कि शुरू में एक ही टेस्टिंग लैब फैसिलिटी थी लेकिन उसे अब 1700 तक पहुंचा दिया गया है।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, देश में आज पीपीआई किट बनाने वाली 110 कंपनियां हो चुकी हैं। देश में वेंटिलेटर्स उत्पादकों की संख्या भी बढ़कर 25 हो चुकी है। एन 95 मास्क के भी 10 बड़े उत्पादक हो गए हैं। इससे पहले वेंटिलेटर्स के लिए हमें आयात पर निर्भर रहना पड़ता था। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार ने कभी भी राज्यों के साथ कोई भेदभाव नहीं किया।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि लॉकडाउन की वजह से कुछ समय के लिए प्रवासी श्रमिकों को तकलीफ हुई लेकिन केंद्रीय गृह मंत्रालय ने समय पर पहल करते हुए करीब 64 लाख प्रवासी श्रमिकों को ट्रेनों के जरिए उनके गृह राज्य तक पहुंचाया गया। डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि भारत में कोरोना से मृत्यु दर पूरी दुनिया में सबसे कम है।

About News Desk

Check Also

Ban on PFI: टेरर फंडिंग में PFI पर पांच साल का बैन, सहयोगी संगठनों पर भी कसा शिकंजा

केंद्र सरकार ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के खिलाफ कार्रवाई पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया पर …