Sunday, August 14, 2022
Home उत्तर प्रदेश मेरठ में नगर ...

मेरठ में नगर निगम की टीम पर महिलाओं ने किया पथराव, अवैध निर्माण हटाने गई थी टीम

  • जेसीबी मशीन के सामने लेटी महिलाएं

  • बुलडोजर कार्रवाई को महिलाओं ने रोका

  • सरकारी जमीन कब्जा मुक्त कराने गई थी टीम

यूपी: उत्तर प्रदेश में योगी सरकार द्वारा अवैध निर्माण और अतिक्रमण पर लगातार बुलडोजर की कार्रवई की जा रही है। इसी क्रम में मेरठ में सोमवार को नगर निगम की टीम अवैध निर्माण हटाने गई थी पर वहां पर नगर निगम की टीम को महिलाओं के विरोध का सामना करना पड़ा। साथ ही महिलाओं ने बुलडोजर पर पत्थर भी फेंके और कुछ तो बुलडोजर के आगे आकर लेट गई। जिसके बाद नगर निगम की टीम ने 3 दिन का समय दे कर वापस लौट गई।

यह भी पढे़ं: पिंक साड़ी में रश्मि देसाई का ‘किलर लुक’ देख बोला फैंस हो रहे मदहोश

बता दें कि अब्दुल्लापुर में नगर निगम की एक हजार वर्ग मीटर जमीन पर अब्दुल गनी, अब्दुल हकीम तथा बाबू आदि लोगों ने पिछले सात-आठ सालों से कब्जा किया हुआ है। सोमवार को नगर निगम से प्रभारी अतिक्रमण डा. पुष्पराज गौतम व लेखपाल रूद्रेश अपनी टीम के साथ कार्रवाई करने पहुंचे, लेकिन जैसे ही टीम ऐक्शन में आई तो उसका विरोध शुरू हो गया। अतिक्रमण हटाने के दौरान पशुओं के बाड़े के अंदर सैकड़ों महिलाएं बैठी हुई थी। एक दीवार के गिराते ही महिलाएं जेसीबी के सामने आकर बैठ गई। महिला पुलिस ने उन्हें हटाने की कोशिश की, लेकिन महिलाएं नहीं हटी। लम्बी जद्दोजहद के बाद महिलाओं को हटाया गया। इसके बाद जैसे ही बुलडोजर ने दूसरी दीवार गिरानी शुरू की तो दीवार के पीछे से महिलाओं ने जेसीबी पर पथराव शुरू कर दिया। हालांकि इसमें कोई हताहत नहीं हुआ, निगम टीम व पुलिस ने किसी तरह हालात काबू में किए।

महिलाओं के विरोध के चलते अवेध निर्माण ढहाने पहुंची टीम को बीच में ही कार्रवाई रोककर वापस लौटना पड़ा। मुश्किल से निगम टीम महिलाओं के विरोध के बीच तीन तरफ की दीवारे ही गिरा पाई। लगभग 400 वर्ग मीटर भूमि को खाली कराया गया जबकि शेष 600 वर्ग मीटर भूमि को तीन दिन के भीतर खाली करने की चेतावनी दी गई। तीन दिन बाद नगर निगम की टीम पर्याप्त पुलिस बल उपलब्ध होने पर शेष भूमि को कब्जा मुक्त कराया जाएगा।

यह भी पढे़ं: मायावती का योगी सरकार पर हमला, कहा इनका कार्यकाल उदासीन व अति-निराशाजनक 

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular