Sunday, August 14, 2022
Home उत्तर प्रदेश भूमाफिया यशपा...

भूमाफिया यशपाल तोमर पर प्रशासन ने कसा शिकंजा, मेरठ में 5 करोड़ की कोठी सील

  • भूमाफिया पर योगी सरकार की कार्रवाई

  • यशपाल तोमर की करोड़ों की कोठी की सील

  • गैंगस्टर एक्ट के तहत की गई कार्रवाई

यूपी: प्रदेश में योगी सरकार बनने के बाद से ही अपराधियों के खिलाफ लगातार कार्रवाई की जा रही है। इसी क्रम में भूमाफिया यशपाल तोमर पर प्रशासन ने अपना शिकंजा कसा है। मेरठ में भूमाफिया यशपाल तोमर की एनएच-58 हाईवे स्थित वेदव्यासपुरी में पांच करोड़ कीमत की कोठी को ब्रह्मपुरी पुलिस आज जब्त करने पहुंची। पुलिस ने इससे पहले कोठी से संबंधित सभी दस्तावेज जुटा लिए थे। ये कार्रवाई गैंगस्टर एक्ट के तहत की गई है। पुलिस का दावा है कि माफिया ने अवैध तरीके से धन अर्जित कर अपने भाई नरेश तोमर के नाम कोठी की हुई है। कोठी के आसपास भारी पुलिस-फोर्स तैनात कर दिया। इसके बाद जब्ती की कार्रवाई शुरू कराई गई।

यह भी पढ़ें: Britain: बगावत के चलते बोरिस जॉनसन ने दिया ब्रिटेन के पीएम पद से इस्तीफा

यशपाल तोमर यूपी, उत्तराखंड, दिल्ली का एनसीआर का भूमाफिया है। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए भूमाफिया यशपाल तोमर के करोड़ों के मकान को कुर्क कर लिया है। यशपाल तोमर लोगों पर फर्जी मुकदमे लिखवा कर जेल भिजवाने का नेटवर्क चलाता था। इससे पहले पुलिस यशपाल तोमर की नोएडा और बागपत में अरबों की संपत्ति कुर्की कर चुकी है। मेरठ के थाना ब्रह्मपुरी में मुकदमा दर्ज किया गया है।

एएसपी ने बताया कि ग्रेटर नोएडा में जिन किसानों ने यशपाल तोमर को जमीन नहीं दी और प्राधिकरण को बेच दी, उन किसानों पर यशपाल तोमर ने पंजाब, हरियाणा और दूसरे राज्यों में पुलिस से साठगांठ कर फर्जी मुकदमे दर्ज कराए। इसके बाद उक्त किसानों से यशपाल ने मुकदमा खत्म कराने के लिए पैसा ले लिया। वह पैसा यशपाल के एक करीबी के बैंक अकांउंट में गया। उसी पैसे से मेरठ में कोठी खरीदी गई है, जिसकी कीमत करीब पांच करोड़ रुपये है। गौरतलब हो कि गैंगस्टर यशपाल तोमर को एसटीएफ ने जनवरी में गिरफ्तार किया था। पुलिस ने उसके खिलाफ दर्ज मामलों को जब खंगालना शुरु किया तो फेहरिस्त बड़ी होती चली गई। अलग अलग राज्यों में उसके द्वारा अर्जित करते हुए काफी संपत्ति सामने आई।

यह भी पढ़ें: ब्लड शुगर को कम करने के लिए बदले लाइफस्टाइल

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular