Breaking News

Jammu and Kashmir: पुलवामा में देर रात हुई मुठभेड़, एक जवान शहीद, तीन आतंकियों का सफाया

  • सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच पुलवामा के जदुरा इलाके में मुठभेड़
  • मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों का किया सफाया
  • आतंकियों से दो पिस्टल और एक एके-47 बरामद
  • एक जवान इलाज के दौरान शहीद

नेशनल डेस्क: जम्मू कश्मीर  में शुक्रवार को देर रात आतंकियों और सुरक्षा बलों में मुठभेड़ हो गई। यह मुठभेड़ दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में लगभग रात 1:00 बजे के करीब हुई। मुठभेड़ शुरू होने के 8 घंटों के अंदर ही सुरक्षा बलों ने 3 आतंकियों को मार गिराया। हालांकि मुठभेड़ के दौरान एक जवान भी घायल हो गया। उसे इलाज के लिए सैन्य हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया। इलाज के दौरान ही उसकी मौत हो गई। आतंकियों और जवानों में अभी भी मुठभेड़ जारी है। मारे गए तीन आतंकियों के पास दो पिस्टल और एक एके-47 बरामद हुई।

पुलवामा जिले के जादूरा इलाके में आतंकियों के होने की सूचना जैसे ही सुरक्षाबलों को मिली वैसे ही सुरक्षाबलों ने घेराबंदी कर दी। और तलाश अभियान चलाया। तलाश अभियान के दौरान सुरक्षा बलों का घेरा सख्त होने के कारण आतंकियों ने उन पर फायरिंग कर दी, खुद को बचाने के लिए सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई की जिससे मुठभेड़ शुरू हो गई इसी मुठभेड़ के दौरान तीन आतंकियों का सफाया कर दिया गया।

बता दें, इससे पहले दक्षिणी कश्मीर के शोपियां जिले में शुक्रवार को मुठभेड़ हुई थी। आतंकवादियों में एक शकूर पार्रे जम्मू-कश्मीर पुलिस का पूर्व जवान और अल-बद्र संगठन का जिला कमांडर था। जिला कमांडर समेत चार दहशतगर्दों को मार गिराया गया। इन दहशतगर्दों का हाथ भाजपा से जुड़े श्रीनगर के पंच निसार अहमद के अपहरण व हत्या में था। आईजी कश्मीर विजय कुमार ने बताया कि पंच के अपहरण व हत्या में शामिल शकूर और सुहैल भट समेत चार आतंकी मारे गए हैं। मारे गए आतंकियों के पास तीन पिस्टल और दो AK- 47 राइफल बरामद हुई।

शोपियां जिले के किलूरा इलाके में पुलिस को दो से तीन आतंकियों कि मौजूदगी की खबर मिली खबर मिलते ही सीआरपीएफ तथा पुलिस ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर तलाशी अभियान शुरू कर दिया। तलाश अभियान के दौरान कड़ी घेराबंदी होने के कारण आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग कर दी सुरक्षाबलों ने पहले तो उन्हें समर्पण करने के लिए कहा। लेकिन जब वह नहीं माने और गोली चलाते रहें। तब सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई की और जवाबी कार्रवाई से मुठभेड़ शुरू हो गई। इस दौरान चार आतंकियों को मार गिराया गया। लेकिन, इनकी शिनाख्त नहीं हो पाई है, पुलिस ने बताया कि सुरक्षाबलों को किसी तरह का कोई नुकसान नहीं हुआ। क्योंकि ऑपरेशन को काफी पेशेवर तरीके से अंजाम दिया गया।

About Misbah Khanam

Check Also

Chhattisgarh: दुर्ग में बच्चा चोरी का शक होने पर साधुओं की लोगों ने की पिटाई

दुर्ग में साधुओं की लोगों ने की पिटाई लोगों को था बच्चा चोरी का शक …