Breaking News

ओवैसी ने चीनी अतिक्रमण को लेकर किया बड़ा दावा, पीएम मोदी से मांगा जवाब

  • AIMIM प्रमुख ने मांगा पीएम से जवाब
  • चीन मुद्दे पर हैं हमलावर
  • रक्षा मंत्री के बयान को बताया था ‘घिनौना मज़ाक’ 

नेशनल डेस्क : AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी भारत-चीन मुद्दे को लेकर लगातार केंद्र सरकार पर निशाना साध रहे हैं। इसी कड़ी में उन्होंने दावा किया है कि चीन ने 1000 वर्ग किलोमीटर भारतीय क्षेत्र पर कब्जा किया हुआ है। 

AIMIM अध्यक्ष ने BJP को चीन मुद्दे पर घेरा 

गुरुवार को ओवैसी ने ट्वीट कर कहा— “चीन ने 1000 वर्ग किलोमीटर भारतीय क्षेत्र पर कब्जा कर लिया है, जिसमें से 900 वर्ग किमी देप्सांग में है। अभी तक राजनाथ सिंह ने देप्सांग के बारे में कुछ नहीं कहा है। प्रधानमंत्री कार्यालय के लिए यह असुविधाजनक हो सकता है लेकिन इस समय आप संसद को जानकारी देने से रोक रहे हैं। आप सांसदों के प्रति जवाबदेह हैं।”

इससे पहले भी बीते दिन AIMIM अध्यक्ष ने संसद में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के बयान को ‘घिनौना मजाक’ करार देते हुए ट्वीट किया था कि “मैंने ऐसा बयान नहीं देखा है जो इतना कमजोर और अपर्याप्त हो। यह राष्ट्रीय सुरक्षा के नाम पर एक ‘घिनौना मजाक’ है। रक्षा मंत्री के बयान पर मुझे संसद में बोलने की अनुमति नहीं थी। अगर इजाजत मिलती तो पूछता कि रक्षा मंत्री क्यों नहीं कहते कि चीन ने हमारी एक हजार वर्ग किमी जमीन पर अवैध कब्जा कर लिया है? इस अवैध कब्जे के लिए जिम्मेदार कौन है?”

सवालों का सिलसिला ज़ारी रखते हुए ओवैसी कहते हैं — “सरकार हमारे बंदी सैनिकों के बारे में सच क्यों नहीं बता रही है? आपने संसद को यह क्यों नहीं बताया कि आपने चीन से यथास्थिति अप्रैल 2020 से पहले के मुताबिक बरकरार रखने की मांग की है? क्या आपने मांग की है कि वर्तमान स्थिति को यथास्थिति माना जाए?”

उन्होंने आगे लिखा, “आप दोनों पक्षों के सैन्य अधिकारियों के बीच हो रही बातचीत के बारे में बात कर रहे हैं. जब पिछली बातचीत फेल हो गई है तब क्या ये बातचीत सफल होंगी? सशस्त्र बलों को सरकार ने क्या राजनीतिक मार्गदर्शन दिया है? राजनीतिक नेतृत्व इस प्रक्रिया को अपने हाथ में क्यों नहीं ले रही है? सेना को प्रतिनिधि क्यों बनाया जा रहा है?”

About News Desk

Check Also

Chhattisgarh: दुर्ग में बच्चा चोरी का शक होने पर साधुओं की लोगों ने की पिटाई

दुर्ग में साधुओं की लोगों ने की पिटाई लोगों को था बच्चा चोरी का शक …