Breaking News

LGP की प्रेशर पॉलिटिक्स पड़ने लगी हल्की! 143 से सीधे 36 सीटों पर चुनाव

  • लोजपा की प्रेशर पाॅलिटिक्स पड़ने लगी हल्की।
  • पूर्व सांसद ने सूरजभान सिंह ने 36 सीटों पर चुनाव लड़ने का रखा प्रस्ताव।
  • 20 सीटें पार्टी अपनी पसंद की चयन करेंगी।
  • लोस चुनाव 2019 की तर्ज पर लोजपा लड़ेगी चुनाव ?

बिहार डेस्क: लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) की प्रेशर पाॅलिटिक्स अब धीरे-धीरे हल्की होती जा रही है। अभी तक बड़ी-बड़ी बात करने वाली लोजपा 143 सीटों पर प्रत्याशी उतारने का दम भरती थी लेकिन अब तेवर कुछ ढीले पढ़ने लग गए है। पार्टी के पूर्व सांसद सूरजभान सिंह ने 36 सीटों का फाॅर्मूला रखा है, जिसमें से 20 सीटें पार्टी अपनी पसंद की सीटों का चयन करेगी। फिलहाल सूरजभान के इस प्रस्ताव पर ना ही एनडीए की तरफ से कोई प्रतिक्रिया आई और ना ही लोक जनशक्ति पार्टी ने कुछ कहा है।

इस तरह रहेगा सीटों का गणित!

पूर्व सांसद सूरजभान सिंह का कहना है कि लोजपा 36 सीटों से कम पर चुनाव लड़ने का राजी नहीं है और वहीं नया फाॅर्मूला भी बताया है। उनके फाॅर्मूले के अनुसार 123 सीटों पर भाजपा और जदयू के विधायक हैं। वहीं बची 120 सीटों में से 20 सीटें एलजेपी अपने पसंद की लेगी और इसमें में से 20 सीटें लाजपा अपनी पसंद लेगी। वहीं बची 100 सीटें एनडीए जिसमें से बी और सी ग्रेड की 16 सीटें लोजपा को दी जा सकती है, क्योंकि वह 36 से कम सीटों पर चुनाव नहीं लड़ेगी।

Read More Stories 
अन्य दलों को सूरजभान सिंह ने कुछ ऐसे चेताया

पूर्व सांसद सूरजभान सिंह चेतावनी देने से भी नहीं चूके। दरअसल जब सूरजभान सिंह से यह पूछा गया कि 25 सीटों पर चर्चा चल रही है तो सूरज भान सिंह ने कहा आप गर्दन दबाइएगा तो गर्दन बिल्ली का ही दबाया जाता है, लेकिन उसके बाद उसका वार बहुत खतरनाक होता है। ऐसे में एलजेपी ने अपने सहयोगियों के सामने इशारों में ही समझा दिया है कि वह गर्दन नहीं दबाएं।

143 और 36 सीटों पर बैठकों का दौर चला

चुनाव की तारीख भले ही तय नहीं हुई है लेकिन सरगर्मियां पहले से ही काफी तेज हो गई है। लोजपा में लगातार सीट बंटवारे को लेकर पहले से ही बैठकों का दौर शुरू हो गया था। पिछले दिनों बिहार संसदीय बोर्ड की बैठक में यह तय किया गया था कि एलजेपी 143 सीटों पर अपनी चुनावी तैयारी करेगी। साथ ही सूची तैयार करने को भी कहा गया था। बुधवार को सांसदों और पूर्व सांसदों की बैठक बात इस बात पर रह गई कि एलजेपी अपनी 143 सीटों पर तैयारी रखेगी। लेकिन अब तय हो गया है कि एलजेपी 36 सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

एनडीए को सौंप सकती 36 सीटों का प्रस्ताव

एलजेपी भी इस बात से वाकीफ है कि उन्हें कितनी सीटें गठबंधन में मिल सकती है। लोजपा फिर से 2019 लोकसभा चुनाव के तर्ज पर ही चुनाव लड़ सकती है। वह जल्द ही एनडीए के सामने 36 सीटों का प्रस्ताव रखेगी।

Read More Stories 

About News Desk

Check Also

बिहार में आकाशीय बिजली गिरने से 11 लोगों की मौत, सीएम नीतीश कुमार ने जताया दुख

बिहार में गिरी आकाशीय बिजली गिरने आकाशीय बिजली गिरने से 11 लोगों की मौत सीएम …